धर्मांतरण मामला: सीएम योगी सख्त, दोषियों पर लगेगा एनएसए, संपत्ति होगी जब्त, दिए निर्देश

0
141
yogi adityanath

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। पिछले कई दिनों धर्मातरण का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। एक गिरोह के खुलासे के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऐक्शन में आ गए हैं। मुख्यमंत्री ने जांच एजेंसियों को धर्मांतरण मामले की पूरी तह में जाने का निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग इस मामले में संलिप्त हैं उनके खिलाफ गैंगस्टर लगाएं, एनएसए में निरुद्ध किया जाए। उनकी प्रॉपर्टी जब्त करने की कार्रवाई की जाए।

आपको बता दें कि यूपी एटीएस ने जबरन धर्मांतरण कराने वाले एक बड़े गिरोह का पदार्फाश किया है। दिल्ली से संचालित यह गिरोह बड़ी संख्या में लोगों का धर्मांतरण पैसा, शादी और नौकरी की लालच दे कर करा चुका है। सोमवार को लंबी पूछताछ के बाद दो लोगों को यूपी एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया। इसमें एक का नाम मुफ्ती जहांगीर आलम है और दूसरे का नाम उमर गौतम है। इन लोगों ने एक हजार से अधिक लोगों का धर्मांतरण कराया है जिसमें अधिकतर हिंदुओं को मुस्लिम बनाया गया है।

क्या है पूरा मामला

गौरतलब हैं कि धर्मांतरण मामले में दिल्ली के जामिया नगर से दो मौलाना को गिरफ्तार किया गया था। यूपी एटीएस की टीम ने कल मोहम्मद उमर गौतम और मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी को गिरफ्तार किया था। दोनों आरोपी अब तक 1 हजार से ज्यादा लोगों का धर्मांतरण कर चुके हैं। जांच में पता चला है कि ये लोग गरीब मूक बधिर बच्चों और महिलाओं को लालच देकर उनका धर्म परिवर्तन कराते थे। दोनों आरोपियों के खिलाफ लखनऊ के एटीएस थाने में मामला दर्ज किया गया है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।