रिपोर्ट में दावा: चीन में आएगी कोरोना की सुनामी, 16 लाख से ज्यादा हो सकती है मौतें

Corona in France sachkahoon

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। कोरोना पूरी दुनिया में फिर से अपना कहर बरपा रहा है। इस बीच चीन को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है। एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने अगर कोविड-19 पॉलिसी में ढील दी तो जुलाई तक 16 लाख से अधिक मौतें हो सकती हैं। यह रिपोर्ट फूडान यूनिवर्सिटी ने जारी की है। गौरतलब हैं कि वर्ष 2019 में चीन के वुहान में कोरोना संक्रमण का पहला मामला आया था। जब 2020 में दुनिया में कोरोना अपना कहर बरपा रहा था तो चीन ने इसे काबू पा लिया था। लेकिन अब ओमिक्रॉन वैरिंएट ने चीन की हालत खराब कर दी है।

बताया जा रहा है कि डेल्टा की तुलना में ओमिक्रॉन कई गुना ज्यादा संक्रामक है। चीन के शंघाई में हालात बहुत चिंताजनक है। यह 6 हफ्ते से सख्त लॉकडाउन लगा है। 25 करोड़ से ज्यादा लोग घरों में कैद है। पूरे चीन में 40 करोड़ से ज्यादा लोग ऐसे हैं जो किसी ने किसी पाबंदी में रह रहे हैं। वहीं रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर इतनी मौतें हाती है तो वहां अंतिम संस्कार के लिए जगह कम पड़ सकती है। स्टडी के अनुसार, अगर कोविड प्रतिबंध में ढील दी गई तो कोरोना की सुनामी आ सकती है। इस दौरान 11.22 करोड़ से ज्यादा मामले सामने आएंगे।

डब्ल्यूएचओं ने चीन की कोरोना पॉलिसी पर उठाए सवाल

डब्ल्यूएचओं के प्रमुख टेड्रोस एडोनॉम ने चीन की जीरो कोविड पॉलिसी पर सवाल उठाते हुए कहा कि वायरस अपना नेचर बदल रहा है इसलिए इसके रोकथाम के लिए नहीं रननीति बनानी होगी। इस पर चीन का भी जवाब आया है। चीन ने कहा कि डब्ल्यूएचओं को ऐसे गैर जिम्मेदाराना टिप्पणी से बचना चाहिए।

डीपीआरके में पहला कोविड संक्रमित मिला

डेमोक्रेटिक पीपुल्स रिपब्लिक आॅफ कोरिया (डीपीआरके) में गुरुवार को दो साल में पहली बार किसी कोविड-19 संक्रमित की पुष्टि हुई। कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) ने यह जानकारी दी। राज्य के मीडिया ने कहा कि राजधानी में रविवार को रोगियों के एक समूह से नमूने इकट्ठा करके जांच की गयी थी, जिसमें कोरोना संक्रमण के ओमिक्रोन वैरिएंट की पुष्टि हुई है। केसीएनए ने इसे सबसे गंभीर राष्ट्रीय आपातकालीन घटना बताया है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here