होमगार्ड जवान नेमाराम के अंतिम संस्कार में जनसैलाब उमड़ा

Home Guard

बाड़मेर (एजेंसी)। राजस्थान के बाड़मेर हिंडौन सिटी करौली में होमगार्ड जवान नेमाराम की हादसे में मौत के दूसरे दिन आज पार्थिव देह को पैतृक गांव गिराब में अंतिम संस्कार कर दिया गया। सोमवार को अलसुबह अवैध रूप से सैंड स्टोन के ब्लॉक ले जा रहे ट्रक को खनिज विभाग की टीम ने जब्त कर चौकी ले जाने के निर्देश दिए। निगरानी के लिए उसमें ड्राइवर के साथ होमगार्ड जवान नेमाराम के साथ दो अन्य होम गार्ड को बैठा दिया गया। साथ ही, ट्रक के आगे और पीछे खनिज विभाग की गाड़ी चलने लगी। रास्ते में ट्रक ड्राइवर ने आगे चल रही खनिज विभाग की गाड़ी को टक्कर मारा। होम गार्ड के जवानों ने उसे मना किया तो बोला- मैं खुद तो मरूंगा, तुम लोग भी जिंदा नहीं बचोगे।

कुछ दूर आगे जाने पर ड्राइवर खुद कूद गया और ट्रक को पुलिया के नीचे गिरा दिया। इस हादसे में बाड़मेर निवासी नेमाराम की ट्रक केबिन के नीचे दबने से मौत हो गई। दो अन्य होमगार्ड के जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। मृतक नेमाराम का पार्थिव कल रात उसके गांव गिराब पहुंचा। जवान नेमाराम की आज अंतिम विदाई गिराब सहित आसपास के गांवो के लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। परिजनों ने बताया कि नेमाराम (22) की सगाई करीब दो साल पहले खुडाणी निवासी छगनी (19) के साथ हुई थी। छगनी आठवीं तक पढ़ी है। कुछ माह पहले ही दोनों की शादी की तारीख तय की थी। नेमाराम एवं छगनी की 18 दिन बाद शादी होने वाली थी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here