बिजनौर में उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर  भव्य कार्यक्रम, मेधावी छात्राओं को किया सम्मानित

बेटियां देश की शक्ति और शान : उमेश मिश्रा

बिजनौर (सच कहूँ /सरफराज अहमद)।  उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस धूम धाम  के साथ जनपद बिजनौर के  विकास भवन में मेधावी  बेटियों  को सम्मानित  कर मनाया गया। कार्यक्रम में डीएम उमेश मिश्रा, एसपी दिनेश सिंह और ज़िला पंचायत अध्यक्ष सोकेन्द्र प्रताप सिंह सहित जिले के  अफसर शामिल हुए। उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस पर ,महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा संचालित बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के अंतर्गत जिले की मेधावी छात्राओं  को सम्मानित किया गया।

इस मौके पर  डीएम उमेश मिश्रा ने कहा कि  शिक्षा एवं खेल के मैदान में उत्कृष्ट प्रतिभाओं का प्रर्दशन करने वाली सभी मेधावी छात्राओं  को सम्मानित किए जाने पर बधाई।कहा कि बेटियां देश की शक्ति और शान है। उज्जवल भविष्य के साथ आगे बढ़े और लक्ष्य को प्राप्त करें। हाई स्कूल व इंटर की बोर्ड परीक्षा में जिले में प्रथम स्थान पाने वाली  छात्राओं को दस- दस हजार की पुरस्कार राशि देकर सम्मानित किया गया । शिक्षा व खेलकूद क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली बालिकाओं को ट्रैक सूट टी-शर्ट, बैग और सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया।

मेधावियों छत्राओं को दी बधाई,बढ़ाया हौसला

 जिला पंचायत अध्यक्ष साकेन्द्र प्रताप सिंह ने मेधावी बालिकाओं को बधाई देते हुए कहा कि उन्हें बहुत आगे जाना है और अपने माता-पिता एवं देश का नाम रोशन करना है।  कहा कि उनके साथ जिला प्रशासन ही नहीं बल्कि पूरी सरकार उनके उज्जवल भविष्य के निर्माण के लिए तत्पर है।  प्रदेश सरकार मिशन शक्ति के तहत प्रदेश की बालिकाओं एवं महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए व्यावहारिक रूप से प्रयासरत है और उनकी सुरक्षा एवं उनको  आत्मनिर्भर बनाने के लिए अनेक योजनाएं एवं कार्यक्रमों को संचालित कर रही है।
                                                                          -महिलाओं की  सुरक्षा  पहली प्राथमिकता:दिनेश सिंह 

 एसपी दिनेश सिंह ने कहा कि बेटियां देश की शक्ति और उसका सम्मान हैं।  प्रदेश सरकार ने इस बात को महसूस किया और महिला शक्ति कार्यक्रम के तहत उनको हर प्रकार से सुरक्षा उपलब्ध कराने और विकास की धारा से जोड़ने का सार्थक प्रयास किया है।जोकि पूरा हो रहा है।  महिलाओं की सुरक्षा देना हमारी पहली प्राथमिकता है।  इसके सुखद परिणाम भी प्रत्यक्ष रूप से सामने आने लगे हैं।

-इन बालिकाओं को किया गया पुरस्कृत   बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ जन जागरूकता कार्यक्रम के तहत हाईस्कूल एवं इंटरमीडिऐट की राज्य बोर्ड परीक्षा में जिले में प्रथम स्थान करने वाली छात्राओं को सम्मानित किया गया। अलीना परवीन व  कुमारी अक्षरा कौशिक को 10-10 हजार रुपए और  सबसे अधिक  अंक पाने  वाली छात्राओं को 5-5 हजार की पुरस्कार धनराशि और  सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया । इसी योजना के तहत शिक्षा एवं खेलकूद क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली 20 बालिकाओं को ट्रैक सूट, टी शर्ट, डिक्शनरी, एक बैग एवं सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया।

ये अधिकारी कार्यक्रम में रहे मौजूद इस मौके पर सीडीओ पूर्ण बोरा, परियोजना निदेशक डीआरडीए ज्ञानेश्वर तिवारी, जिला विकास अधिकारी एस कृष्णा, जिला प्रोबेशन अधिकारी संजय यादव, डीसी एनआरएलएम ज्ञान सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी नागेन्द्र मिश्र आदि  अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here