कंपकंपा देने वाली ठंडी रातों में भी गऊ सेवा में जुटे डेरा सच्चा सौदा के सेवादार

dera
  • रात्रि को ठंड में विचरण करती गऊओं को गुड़ खिला गर्माहट देने में जुटे हुए हैं डेरा सच्चा सौदा के सेवादार
  • टोलियां बनाकर करते हैं सेवा, खुद की भी नही है परवाह

सच कहूँ, देवीलाल बारना
कुरुक्षेत्र। जनवरी के माह की ठंड़ में रात्रि को घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो जाता है। हाड़ कंपकंपा देने वाली ऐसी ठंडी रातों में डेरा सच्चा सौदा के सेवादार गऊ सेवा में जुटे हैं। ये सेवादार टोलियां बनाकर शहर व ग्रामीण इलाकों में निकलते हैं और जहां भी कोई गौवंश या अन्य पशु दिखाई देता है, उसे गुड़ खिलाते हैं ताकि ठंड के कारण किसी जीव की जान न जाए। पूरे जुनून के साथ डेरा सच्चा सौदा के ब्लॉक कुरुक्षेत्र के सेवादार इस सेवा को कर रहैं। बेशक रात्रि को न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस तक भी पहुंच जाता हो लेकिन डेरा सच्चा सौदा जुड़े इन्सानियत के इन पुराधाओं पर इस ठंड का कोई असर नही है।

कुरुक्षेत्र के ब्लॉक भंगीदास कृष्ण इन्सां ने जानकारी देते हुए बताया कि पूज्य गुरु संत डा. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणा पर चलते हुए सेवादार लगातार गौवंश की सेवा में जुटे हुए हैं। ब्लॉक कुरुक्षेत्र में करीब दर्जन भर टोलियां सेवादारों की बनाई गई हैं। इन टोलियों में कई कई सेवादार रहकर गऊओं को गुड़ खिलाने का कार्य कर रहे हैं। जिला के 25 मैंबर निर्मल सिंह व ब्लॉक के 15 मैंबर सलिंदर पाल इन्सां ने कहा कि पूज्य गुरु जी की प्रेरणा का ही कमाल है कि सेवादार इतनी ठंड में रात्रि के समय खुले आसमान के नीचे ठंड में बैठी गऊओं की सेवा करने में जुटे हुए हैं।

मिलती है असीम शांति

दैनिक सच कहूँ टीम द्वारा जब रात्रि को सेवा कर रहे सेवादारों से इस बारे में जाना तो सेवादार बृजलाल सहारण का कहना था कि कोई भी सेवादार किसी जोर जबरदस्ती से यह सेवा नही कर रहा बल्कि सेवा कार्य करके डेरा सच्चा सौदा के सेवादारों को दिल से चैन मिलता है। इन सेवादारों के मन में हमेशा ही सेवा करने का जज्बा बना रहता है। वहीं सेवादार रणदीप राणा, रघुबीर सिंह, गुरदीप व राहुल ने कहा कि वे लगातार इस प्रकार के सेवा कार्यों में लगे रहते हैं। जैसे ही कोई दीन दुखिये के बारे में उनको मालूम पड़ता है तो सेवादार सेवा कार्य में जुट जाते हैं। इस सेवा कार्य में रायसिंह सैनी, दिनेश गोविंदगढ, अश्वनी गोविंदगढ, पंकज, राहुल, सौरभ, अमित, राजेंद्र, विजय गांधीनगर सहित अन्य सेवादार जुड़े हुए हैं।

पढाई के साथ करता हूँ सेवा : अनमोल

रात्रि करीब साढे 10 बजे कुरुक्षेत्र-कैथल मार्ग पर सेवा कर रही एक टोली में शामिल अनमोल बताते हैं कि वह 11वीं कक्षा के विद्यार्थी हैं। आज दिन में पढाई की और अब रात्रि को सेवा कार्य कर रहा हूँ। अनमोल बताते हैं कि पूरा परिवार डेरा सच्चा सौदा से जुड़े होने के कारण उसके मन में भी हमेशा इच्छा रहती है कि वे भी सेवा कार्य कर किसी के काम आएं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here