लू के थपेड़ों से जूझ रहा हरियाणा-पंजाब समेत समूचा उत्तर भारत

Heat Wave sachkahoon

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। चिलचिलाती धूप, लू के थपेड़ों से लोग त्राहिमाम कर रहे हैं। उत्तर भारत के राज्यों के साथ साथ पहाड़ों पर भी इस बार प्रचंड गर्मी पड़ रही है। चार राज्यों में लोगों को गर्मी का प्रचंड प्रहार झेलना पड़ रहा है। पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस की ओर बढ़ रहा है।
गर्म हवाएं चलने के कारण लोग मजबूरी में ही घर से बाहर निकल रहे हैं। यूपी, दिल्ली, बिहार, हरियाणा, राजस्थान समेत विभिन्न राज्यों में तापमान में लगातार वृद्धि हो रही है। इस बीच, मौसम विभाग ने एक ऐसी भविष्यवाणी कर दी है, जिसे सुनकर आप भयभीत हो सकते हैं। दरअसल, मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि इस बार अधिकतम तापमान 50 डिग्री सेल्सियस को छू सकता है। आईएमडी ने बताया है कि मौसम विज्ञान की नजर से 50 डिग्री सेल्सियस संभव है। चूंकि, मई का महीना सबसे गर्म महीना होता है, इसलिए पश्चिमी राजस्थान के कुछ इलाकों में तापमान 50 डिग्री सेल्सियस को भी छू सकता है। हालांकि, आॅल टाइम हाई रिकॉर्ड नहीं है। अधिकतम तापमान 52.6 डिग्री सेल्सियस तक जा चुका है।

Heat in Haryana

वहीं दूसरी तरफ बिजली संकट ने गंभीर रूप ले लिया है। दिल्ली में स्थिति इतनी गंभीर हो गई है कि विभिन्न अस्पतालों और मेट्रो तक पर असर पड़ने की आशंका जताई जाने लगी है। कई राज्यों में इंडस्ट्री से बाकायदा बिजली की खपत कम करने को कहा गया है। कोरोना और यूक्रेन युद्ध के झटकों के बावजूद खड़ी हो रही इकॉनमी के सामने यह एक और बड़ी चुनौती आ खड़ी हुई है। बिजली की कमी की वजह कोयले की कमी को बताया जा रहा है। आज भी देश में करीब 70 फीसदी बिजली उत्पादन कोयले की मदद से ही होता है। और देश के पावर प्लांटों में कोयले की उपलब्धता का यह हाल है कि इस महीने की शुरूआत के मुकाबले भी इसमें 17 फीसदी की कमी आ गई है।

जानें आपके शहर
का तापमान
सरसा     44
हिसार     45
करनाल    43
चंडीगढ़    42
रेवाड़ी     44
जयपुर    43
दिल्ली     44
मेरठ      42
लुधियाना 43

सेंट्रल कोलफील्ड्स के पास इस वक्त 60 लाख टन कोयले का स्टॉक है। उनका लक्ष्य पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, बिहार और झारखंड को हर दिन 1.85 लाख टन कोयले की सप्लाई का है। कोयले को लेकर स्थिति काबू में है और अंतर मंत्रालयी समूह हालत पर निगरानी रखे है।

पीएम प्रसाद, सीसीएल के सीएमडी

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।