देश की हर ग्राम पंचायत व ग्रामीणों को करना चाहिए ऐसा काम

jind
  • सफाई अभियान: लोहड़ी पर्व व मकर सक्रांति पर कान्हा खेड़ा में लगातार दूसरे दिन विशेष सफाई अभियान
  • सराहनीय – सरपँच ने कस्सी उठाकर ग्रामीणों के साथ की सफाई अभियान में शिरकत

सचकहूँ / कुलदीप नैन
धमतान साहिब

गणतंत्र दिवस से पहले लोहड़ी व मकर सक्रांति के शुभ अवसर पर कान्हा खेड़ा ग्राम पंचायत ने ग्रामीणों की मदद से लगातार दूसरे दिन गांव की गली व नालियों का सफाई अभियान चलाया। सरपंच मनोज शर्मा ने ग्रामीणों के साथ कस्सी उठाकर इस सफाई अभियान में हिस्सा लिया व इसको सफल बनाने में अहम भूमिका निभाई। पहले दिन जहाँ गाव की गलियों व नालियों का सफ़ाई अभियान चलाया गया था वही दूसरे दिन मकर सक्रांति के अवसर पर सुबह सबसे पहले जलघर कान्हाखेड़ा, उसके बाद सरकारी स्कूल, श्मशान घाट, जोहड़ पर सफाई अभियान चलाया।

ग्राम पंचायत ने ग्रामीणों से अपील करते हुए कहा कि अपने घरों का कूड़ा कचरा नालियों में न बहाएं। ऐसा करने से नालियां गंदगी से अट जाती है और गंदा पानी गलियों में जमा हो जाता है। इसके साथ ही आह्वान किया कि सार्वजनिक स्थानो को साफ सुथरा रखना भी सभी ग्रामीणों का फर्ज है। युवाओं व महिलाओं ने भी इस सफाई अभियान में बाद चढ़कर हिस्सा लिया। इस दौरान कूड़े व कीचड़ को ट्राली में भरकर एकांत स्थान पर फेंका गया। सफाई अभियान के बाद गाँव की नुहार बदली बदली नजर आई। इस मौके पर किरण पंच, कर्मसिंह पंच , गुरमीत पंच, गीता पंच, मनीषा पंच , सुषमा पंच, रोहतास, संदीप, बलकार, किस्मत, पताशो, संतोष सहित अन्य ग्रामीण ने भी भाग लिया।

गणतंत्र दिवस आने से पहले गांव की गली व नाली की सफाई करने की सोची ताकि कचरा नालियों में जमा न हो और गांव में गंदगी की वजह से कोई बीमारी न पनप सके। आगे भी गाँव को साफ सुथरा रखने के लिए समय समय पर ऐसे अभियान चलाते रहेगे और लोगो को जागरूक करते रहेंगे। लगातार दूसरे दिन सफाई अभियान को सफल बनाने में सभी ग्रामीणों का सहयोग के लिए धन्यवाद।
मनोज शर्मा सरपँच कान्हा खेड़ा

33 महानगरों की सफाई करने वाली एक मात्र संस्था

भारत देश का हर कोना स्वच्छता की खुशबू से महके और विदेशी जब भी भारत आएं तो कोई हमारे देश को डर्टी इंडिया न कहे। इस सपने को अपने दिल में संजोकर ही डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने 21 सितम्बर 2011 को नई दिल्ली से ‘हो पृथ्वी साफ मिटे रोग अभिशाप’ सफाई महाअभियान की शुरूआत की। पूज्य गुरु जी के एक आह्वान पर भारत को स्वच्छ बनाने के लिए करोड़ों डेरा श्रद्धालुओं ने अब तक 33 शहरों, महानगरों व पवित्र नदियों से लाखों टन कूड़ा निकाल कर देश को स्वच्छता की सौगात दी है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here