गहलोत सरकार ने की बड़ी घोषणा: अभ्यर्थियों को आयु सीमा में दो वर्ष की छूट

Gehlot sachkahoon

जयपुर (सच कहूँ न्यूज)। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड के कारण दो वर्षों तक नौकरी के लिए प्रतियोगी परीक्षाएं समय पर आयोजित नहीं हो सकीं। इसलिए आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में इसे वंचित अभ्यर्थियों को अधिकतम आयु सीमा में दो वर्षो की छूट दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सरकार की विभिन्न योजनाओं के केन्द्र में युवा और छात्र हैं। प्रदेश का अगला बजट भी इन्हीं को समर्पित होगा। गहलोत ने कहा कि सरकार शहरों में भी सौ दिन का रोजगार देने का कार्य कर रही है।

राजस्थान बन रहा एजुकेशन हब

मुख्यमंत्री ने कहा कि बूंदी में नए मेडिकल कॉलेज के लिए 63 बीघा जमीन आवंटन के साथ 147 करोड़ से अधिक की राशि मंजूर की जा चुकी है। वहीं हिण्डोली कॉलेज के लिए 15 एकड़ भूमि के साथ 4.50 करोड़ का बजट उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षा को सर्वाेच्च प्राथमिकाता दे रही है। जहां 1998 में प्रदेश में मात्र 6 विश्वविद्यालय थे आज बढ़कर 28 हो गए हैं। सरकार द्वारा 210 नए राजकीय महाविद्यालय खोले गए है, जिनमें 96 कन्या महाविद्यालय शामिल हैं। वहीं 675 नए निजी महाविद्यालयों के लिए एनओसी जारी की गई है। हर जिले में सरकारी नर्सिंग कॉलेज तथा हर संभाग में पब्लिक हेल्थ कॉलेज खोले जा रहे है। होनहार बच्चों को राजीव गांधी स्कोलरशिप फॉर एकेडेमिक एक्सिलेंस योजना के तहत पढ़ाई के लिए विदेश भेजा जा रहा है। दिव्यांग विद्यार्थियों को अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए मुख्यमंत्री उच्च शिक्षा छात्रवृत्ति योजना के तहत 10 हजार रूपए की छात्रवृति दी जा रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here