महबूबा मुफ्ती व सात पूर्व विधायकों को सरकारी आवास खाली करने का नोटिस

Mehbooba Mufti

श्रीनगर (एजेंसी)। जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती और सात पूर्व विधायकों को दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले स्थित सरकारी आवासों को खाली करने के लिए कहा गया है। यह जानकारी अधिकारियों ने रविवार को दी। इससे पहले 15 अक्टूबर को कश्मीर के संपदा विभाग ने पीडीपी अध्यक्ष को श्रीनगर के गुपकर रोड स्थित उनके आधिकारिक आवास खाली करने का नोटिस दिया था। शनिवार को कार्यकारी मजिस्ट्रेट (प्रथम श्रेणी) ने अनंतनाग उपायुक्त के निर्देश पर महबूबा मुफ्ती और तीन पूर्व विधायकों को सरकारी आवास खाली करने का नोटिस दिया।

यह भी पढ़ें:– इंटर रेलवे बॉक्सिंग चैंपियनशिप में तीन मुक्केबाजों ने जीते पदक

क्या है माजरा

उन्हें 24 घंटे के अंदर क्वार्टर संख्या 1, 4, 6 और 7 खाली करने के लिए कहा गया है जो क्रमश: पूर्व विधायक मोहम्मद अल्ताफ वानी, पूर्व विधायक अब्दुल रहीम राथर, पूर्व विधायक अब्दुल मजीद भट और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती का सरकारी आवास है। जिन अन्य लोगों को सरकारी आवास खाली करने के लिए कहा गया है उनमें पूर्व विधायक अल्ताफ शाह, पूर्व एमएलसी बशीर शाह, पूर्व एमएलसी चौधरी निजामुद्दीन, पूर्व विधायक अब्दुल कबीर पठान और निगम पार्षद शेख मोहिउद्दीन शामिल हैं। अधिकारियों के अनुसार, ये सरकारी आवास हाउसिंग कॉलोनी खानाबल में स्थित हैं और उन्हें चेतावनी दी गई है कि इन्हें अगर निर्धारित समय के अंदर खाली नहीं किया गया तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।