लू से अब मिलेगी राहत, यूपी, हरियाणा सहित इन 14 राज्यों में होगी बारिश, मॉनसून ने दी बड़ी खुशखबरी

Monsoon
Monsoon : लू से अब मिलेगी राहत, यूपी, हरियाणा सहित इन 14 राज्यों में होगी बारिश, मॉनसून ने दी बड़ी खुशखबरी

नई दिल्ली (संदीप सिंहमार)। Monsoon: देश के दक्षिणी हिस्सों में बारिश होने के आसार के बीच दक्षिण-पश्चिम मानसून गुरुवार को केरल के तट पर पहुंच गया। मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण-पश्चिम मॉनसून केरल में पहुंच गया है और आज पूर्वोत्तर भारत के अधिकांश हिस्सों की ओर आगे बढ़ रहा है। भारतीय मौसम विभाग के पूवार्नुमान से एक दिन पहले ही मानसून ने केरल के तटों पर दस्तक दे दी। अरुणाचल प्रदेश, त्रिपुरा, नागालैंड, मेघालय, मिजोरम, मणिपुर और असम में सामान्य मानसून की शुरूआत पांच जून तक हो सकती है।

श्री बदरीनाथ धाम में हल्की बारिश | Monsoon

उत्तराखंड के चमोली जनपद स्थित श्री बदरीनाथ में गुरुवार प्रात: मौसम बदल गया। कुछ देर धूप आयी। उसके बाद बादल छा गये। फिर बारिश शुरू हो गई। बदरीनाथ केदार नाथ मंदिर समिति प्रवक्ता डा हरीश गौड़ ने बताया कि आज सुबह साढ़े दस बजे से बदरीनाथ में हल्की बारिश शुरू हो गयी है। जबकि श्री केदारनाथ में बादल छाये है। लेकिन मौसम सामान्य है। दोनों धामों में तीर्थयात्रियों का आगमन जारी है।

पश्चिमोत्तर राज्यों और दिल्ली में 2-3 दिनों में गर्मी से राहत की उम्मीद

दिल्ली सहित कई स्थानों पर तापमान 50 डिग्री सेल्सियस के पार होने के बीच मौसम विभाग ने पश्चिमी विक्षोभ के कारण पश्चिमोत्तर भारत और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में कुछ राहत की उम्मीद जताते हुए जल्द ही बूंदाबांदी के साथ आंधी आने की संभावना व्यक्त की है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने एक बयान में कहा कि आने वाले पश्चिमी विक्षोभ, बारिश या तूफान और अरब सागर से उत्तर-पश्चिम भारत की ओर बहने वाली दक्षिण-पश्चिमी हवा के कारण तापमान में मध्यम गिरावट के कारण अगले 2-3 दिनों के दौरान भीषण गर्मी की स्थिति कम हो जाएगी। वहीं हरियाणा में भी कई क्षेत्रों में हल्की बारिश की संभावना जताई है। Monsoon

पिछले कुछ दिनों में पूरे उत्तर-पश्चिम भारत को लू ने अपनी चपेट में ले लिया है, जहां अधिकतम तापमान राजस्थान के चुरू में 50 डिग्री सेल्सियस से अधिक तक पहुंच गया है।

मौसम एजेंसी ने हालांकि कहा कि शुष्क मौसम के साथ भीषण गर्मी की स्थिति एक जून तक देश के कई हिस्सों में जारी रहेगी तथा अगले दो-तीन दिनों में उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में मौजूदा स्थितियां धीरे-धीरे कम हो जाएंगी। आईएमडी ने कहा कि गुरुवार के लिए लू चेतावनी को ‘रेड अलर्ट’ से ‘आॅरेंज अलर्ट’ में बदल दिया। अनुमान है कि तापमान में 2 डिग्री से से 3 डिग्री सेल्सियस की कमी आएगी।

क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र, नई दिल्ली ने गुरुवार के लिए अपने पूवार्नुमान में कहा, ‘आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। कुछ स्थानों पर लू की स्थिति बनी रहेगी। बहुत हल्की बारिश/बूंदाबांदी के साथ तेज हवाओं (गति 25-35 किमी प्रति घंटे) के साथ आंधी/धूल भरी आंधी की संभावना है। मुंगेशपुर मौसम केंद्र में बुधवार को पारा 52.9 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया। इस पर मौसम विभाग ने कहा कि यह दोषपूर्ण सेंसर का परिणाम हो सकता है। मौसम विभाग ने एक बयान में कहा, ‘दिल्ली एनसीआर में अधिकतम तापमान शहर के विभिन्न हिस्सों में 45.2 डिग्री से 49.1 डिग्री सेल्सियस के बीच रहा। मुंगेशपुर में अन्य स्टेशनों की तुलना में 52.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सेंसर में त्रुटि या स्थानीय कारक के कारण हो सकता है। इस मामले में ‘आईएमडी डेटा और सेंसर की जांच कर रहा है।’ मौसम विभाग ने 2-3 दिनों में दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान सहित कई क्षेत्रों में बारिश की भविष्यवाणी की है।

भू विज्ञान मंत्री किरेन रिजिजू ने बताया कि दिल्ली में 52 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान ‘बहुत ही असंभव’ है। दिल्ली के प्राथमिक मौसम केंद्र, सफदरजंग वेधशाला ने बुधवार को अधिकतम तापमान 46.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जो 79 वर्षों में सबसे अधिक है। दूसरी ओर मौसम विभाग ने कहा कि गुरुवार को बिहार, झारखंड और ओडिशा के अलग-अलग हिस्सों में लू से लेकर गंभीर लू की स्थिति होने की संभावना है। यह भी कहा गया है कि 30 और 31 मई को कोंकण और गोवा के अलग-अलग हिस्सों में गर्म और आर्द्र मौसम रहने की संभावना है। Monsoon

यह भी पढ़ें:– RBSE 5th, 8th Result 2024 Live : 5वीं, 8वीं का परीक्षा परिणाम यहाँ देखें!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here