पश्चिमी देशों के दबाव के बिना होनी चाहिए परमाणु वार्ताः रायसी

0
100
Ebrahim Raisi

तेहरान। ईरान ने कहा है कि वह परमाणु समझौते को लेकर वार्ता करेगा, लेकिन यह पश्चिमी देशों के उसके खिलाफ (ईरान) नए प्रतिबंध और दबाव नहीं के तहत नहीं होना चाहिए। यह बातें ईरान के राष्ट्रपति सैयद इब्राहिम रायसी ने शनिवार को कही। उन्होंने आईआरआईबी न्यूज चैनल से कहा, “मैं पहले ही कह चुका हूं हमारी सरकार निश्चित रूप से बातचीत करेगी, लेकिन इस दबाव के साथ नहीं, जो वे (पश्चिमी देश) ईरान के खिलाफ लगा रहे हैं। यदि वे दबाव जारी नहीं रखते हैं, तो वार्ता सफल नहीं होगी।”

उल्लेखनीय है कि ईरान ने 2015 में अमेरिका, चीन, फ्रांस, रूस, ब्रिटेन, जर्मनी और यूरोपीय संघ के साथ परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किया था। इस समझौते के तहत ईरान को अपने परमाणु कार्यक्रम को कम करने और यूरेनियम भंडार में काफी कमी करना था। इसके बदल में ईरान को प्रतिबंधों से राहत दिया जाना था। इसके साथ ही समझौते पर हस्ताक्षर होने के पांच साल बाद हथियार प्रतिबंध हटाना शामिल था।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।