मुख्यमंत्री का विरोध : पुलिस ने किसानों पर भांजी लाठियां, दागे आँसू गैस के गोले

0
207
Lathi Charge

झड़प में किसान और पुलिसकर्मी घायल

सच कहूँ/संदीप सिंहमार। हिसार। जिंदल मॉडर्न स्कूल कैम्पस में बने 500 बिस्तर के अस्थाई कोविड अस्पताल का उद्घाटन करने आए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को एक बार फिर किसानों के विरोध का सामना करना पड़ा। हालांकि पुलिस की मुस्तैदी से मुख्यमंत्री अस्थाई कोविड अस्पताल का उद्घाटन तो कर गए, लेकिन इसके बाद जिंदल चौंक पर पुलिस और किसान आमने-सामने हो गए।

 Lathi Charge

किसान कोविड अस्पताल की तरफ जाने की जिद्द कर रहे थे जबकि पुलिस उन्हें आगे बढ़ने से रोक रही थी। तभी स्थिति एकाएक तनावपूर्ण हो गई और पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस ने किसानों को हटाने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़े। स्थिति की गंभीरता को समझते हुए पुलिस ने कुछ किसानों को हिरासत में भी लिया है। किसानों ने पुलिस पर प्लास्टिक की गोली चलाने के भी आरोप लगाए हैं। भारतीय किसान यूनियन ने प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने पुलिस कार्रवाई में कई किसानों के घायल होने को बात कही है। जानकारी के अनुसार किसानों ने सुबह से ही उद्घाटन समारोह की ओर बढ़ना शुरू कर दिया। किसानों को रोकने के लिए जिला पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग से सटे सभी मार्गों पर नाके लगाए थे, लेकिन किसान पुलिस के बेरिकेड्स तोड़कर शहर में घुसने में कामयाब हुए। किसान जैसे ही जिंदल चौंक पर एकत्रित हुए तो पुलिस के साथ उनकी झड़प होनी शुरू हो गई।

 Lathi Charge

 Lathi Charge

जिंदल चौंक पर पुलिस कार्रवाई के दौरान करीब 2 घंटे तक मार्ग अवरुद्ध रहा। उद्घाटन समारोह के बाद जिले के आला अधिकारियों ने भी मौके का मुआयना किया। ज्ञात रहे कि 3 अप्रैल को रोहतक में मुख्यमंत्री के विरोध के दौरान हुए किसानों पर हुए लाठीचार्ज से खफा किसानों ने हरियाणा प्रदेश में रात को ही सभी राष्ट्रीय राजमार्ग बंद कर अपना विरोध जताया था। जब सभी प्रकार के समारोह पर रोक लगाई गई है तो अस्पताल के उद्घाटन के नाम पर 500 से भी अधिक लोगों को एकत्रित करने का काम क्यों किया गया? खुशी के माहौल में शादी व गम के माहौल में शोक जताने पर भी पाबंदियां लगाई गई है तो यह उद्घाटन भी ऑनलाइन हो सकता था। भविष्य में भी हरियाणा में जहां भी कार्यक्रम होगा, वहीं इन नेताओं को आने से रोका जाएगा। हिसार पहुंचकर भविष्य की रणनीति मनाई जाएगी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।