इंस्टाग्राम पर पूज्य गुरू जी ने साध-संगत को दिया संदेश : गंदगी वाली मक्खी ना बनें, शहद वाली बनें

Saint Dr. MSG

माइंड में हमेशा पॉजीटिविटी रखो

बरनावा। पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां मंगलवार रात्रि साध-संगत से सोशल नेटवर्क इंस्टाग्राम पर रूबरू हुए। पूज्य गुरु जी ने फरमाया कि प्यारी साध-संगत जीओ नेगेटिविटी और पॉजीटीविटी हर इन्सान के अंदर रहती है। उदाहरण के लिए जैसे एक मक्खी होती है, एक गंदगी पे मंडराती है और दूसरी मक्खी शहद पे मंडराती है, फूलों पे मंडराती है।

गंदगी वाली मक्खी कितने भी फूल हों, उन पे बैठ जरूर जाएगी, लेकिन उसे मजा गंदगी की तरफ जाने में ही आता है और जो शहद की मक्खी होती है, कितनी भी गंदगी पड़ी हो, उसको छोड़ के वो फूलों का रस ले के, शहद बनाने में लग जाती है। तो आप गंदगी वाली मक्खी ना बनें, शहद वाली बनें। पॉजीटिविटी हमेशा माइंड (दिमाग) में रहनी चाहिए। तो जिंदगी में आप बहुत सफल रहेंगे और हमेशा खुशियों से लबरेज रहेंगे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here