शीतलहर के बीच खुले स्कूल, उत्साह से पहुँचे नौनिहाल

Schools

रात के तापमान में 2 से 5 डिग्री की बढ़ोतरी

अबोहर। (सच कहूँ/सुधीर अरोड़ा) प्रदेश में इन दिनों शीतलहर चलने के साथ-साथ कोहरा भी पड़ रहा है। जिससे जनजीवन प्रभावित नजर आ रहा है। अभी ठंड का कहर खत्म नहीं हुआ कि इसी बीच 21 दिनों से बंद प्राइमरी स्कूल सोमवार से खुल गए है। इसी बीच बच्चे बड़े चाव के साथ स्कूल पहुँचे और अपने साथियों से मिलकर खुश नजर आए। हालांकि मिडिल व सेकेंडरी कक्षाओं के 9 जनवरी से स्कूल आरम्भ हो गए थे।

यह भी पढ़ें:– पंजाब: चाइना डोर में आया करंट, पतंग उड़ाता बच्चा झुलसा

गाँव वरियाम खेड़ा के सरकारी प्राइमरी स्कूल के मुखी रोहताश कुमार व अध्यापक शंकर गोठवाल ने बातचीत दौरान बताया कि पहले दिन बच्चों की हाजरी 70 प्रतिशत रही। बच्चों को पहले से ही यह हिदायतें दी गई थी कि गर्म वस्त्रों में ही स्कूल पहुंचे। सर्दी से बचाव रखते हुए शूज, जुराबें, टोपी, स्वैटर इत्यादि पहनकर ही स्कूल आए। इसी दौरान बच्चों ने मास्क भी पहनकर ही स्कूल में एंट्री की। क्षेत्र की बात करें तो रात में तापमान 2 से 5 डिग्री के मध्य होने से बर्फ जम रही है। जिससे रात में सफर करने वाले लोगों को बड़ी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा हालांकि दिन के समय सूर्य की किरणें पूरी तेज पड़ने से राहत है।

परन्तु चलने वाली शीत हवाएँ लोगों को धूप में भी गर्म कपड़े डालने को मजबूर करती है। अन्यथा ठंड से लोग कम्पकम्पा रहे है। किसानों का कहना है कि बर्फ जमने से उनकी फसलों पर प्रभाव पड़ रहा है। जिससे फसलों के उत्पादन में कमी आ सकती है व आंशिक नुकसान का भी डर है। क्योंकि सरसों व किन्नू की फसल पर इसके दुष्परिणाम ज्यादा है। हमेशा ही किसानों को किसी न किसी कारण मार झेलनी पड़ जाती है।

सब्जियों के दामों में आ सकता उछाल

बर्फ जमने की वजह से खेतों में पक रही सब्जियों में भी आंशिक नुकसान की आशंका है जिससे पिछले दिनों आधे हुए सब्जियों के दामों में उछाल आ सकता है। क्योंकि सब्जियां की आमद कम होंगी या नुकसान होगा तो मंडियों में आने वाले सब्जियों की कीमतों में तेज उछाल आना जाहिर सी बात है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here