आज रात आंध्र के उत्तरी तट पर पहुंचेगा गंभीर चक्रवाती तूफान ‘आसनी’

cyclonic storm sachkahoon

हैदराबाद (एजेंसी)। पश्चिम-मध्य और उससे सटे दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर उत्पन्न हुआ गंभीर चक्रवाती तूफान (Cyclonic Storm) ह्यआसनीह्ण पिछले छह घंटों के दौरान 10 किमी प्रति घंटे की गति के साथ पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ा है और मंगलवार को सुबह 0830 बजे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में 15.0 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 83.7 डिग्री पूर्वी देशांतर के पास केंद्रित रहा।

इसके आज रात तक आंध्र के उत्तरी तट तक पहुंचने का अनुमान है। मौसम विभाग ने अपने नवीनतम बुलेटिन में बताया कि तूफान के आज रात तक लगभग उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और आंध्र प्रदेश के उत्तरी तट के पास पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक पहुंचने के आसार हैं।

इसके बाद, इसके उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ने तथा उत्तरी आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटों से दूर बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी की ओर बढ़ने का अनुमान है। अगले 24 घंटों के दौरान इसके धीरे-धीरे कमजोर होकर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है। बुलेटिन में कहा गया है कि चक्रवाती तूफान आंध्र प्रदेश के मछलीपट्टनम में डॉपलर वेदर रडार (डीडब्ल्यूआर) की लगातार निगरानी में है।

विशाखापत्तनम स्थित चक्रवात (Cyclonic Storm) चेतावनी केंद्र ने बताया कि अगले 48 घंटों के दौरान आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, विजयनगरम, विशाखापत्तनम और पूर्वी गोदावरी जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। आंध्र प्रदेश के पश्चिमी गोदावरी जिले में एक या दो स्थानों पर भारी बारिश होने का अनुमान है।

समुद्र में उतरे मछुआरों को जल्द से जल्द तट पर लौटने की सलाह दी गयी

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भीषण चक्रवाती तूफान के तट की ओर बढ़ने के मद्देनजर राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) की टीमें तटीय आंध्र प्रदेश में बचाव और राहत कार्यों के लिए तैयार रखा गया है। मौसम विभाग ने बताया कि बंगाल की खाड़ी के पश्चिम-मध्य में 100-110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चल रही है।

मौसम विभाग की बुलेटिन में यह भी कहा गया है कि आज मध्यरात्रि तक पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में समुद्र की स्थिति बहुत अधिक खराब रहने की आशंका है। मछुआरों को 10 से 11 मई के दौरान पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी में और 10 से 12 मई तक उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में मछली पकड़ने से पूरी तरह रोक दिया गया है। बुलेटिन में कहा गया है कि समुद्र में उतरे मछुआरों को जल्द से जल्द तट पर लौटने की सलाह दी गयी है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here