स्थानीय निकाय विभाग ने मानसा नगर कौंसिल के ‘घपलों’ की जांच की शुरू

Mansa News
Mansa News : नगर कौंसिल दफ्तर मानसा में रिकॉर्ड चैक करती जांच टीम।

स्थानीय निकाय विभाग की टीम ने जांच दौरान फाईलों की चैकिंग की व रिकॉर्ड भी किया जब्त

  • प्रारंभिक जांच में कुछ और घपले भी आए सामने

मानसा (सच कहूँ/सुखजीत मान)। Mansa News: नगर कौंसिल मानसा में पंजाब स्टेट विजीलैंस द्वारा नगर कौंसिल के प्रधान विजय कुमार के साथ-साथ 6 और कर्मचारियों पर कथित तौर पर कमिशन लेकर भ्रष्टाचार करने के लिए दर्ज किए मामले के बाद नगर कौंसिल के कुछ काऊंसलरों द्वारा नगर कौंसिल में हुए और कथित घपलों की जांच की मांग की गई ळाी थी। इस मांग पर बुधवार को स्थानीय निकाय विभाग की टीम नगर कौंसिल कार्यालय मानसा पहुंची व टीम ने जांच दौरान काफी फाईलों की चैकिंग की व कुछ रिकॉर्ड जब्त भी किया। Mansa News

जानकारी के अनुसार मानसा के कुछ काऊंसलरों ने मानसा नगर कौंसिल में कथित तौर पर हो रहे घपलों की जांच की मांग की थी। काऊंसलरों ने कहा था कि नकशे व सीएलजू के नोटिसों में घपले, नगर कौंसिल की सरकारी जगह पर कब्जे, एनओसी में घपले, प्रॉपर्र्टी टैक्स में हुए घपले, कुटेशन बिलों में घपले, पुरानी बोगस अदायगियां, एडवरटाईमैंट बोर्डों, बस स्टैंड की स्टालों में हुए कथित घपले की जांच कर कार्रवाई करने के लिए शिकायतों सहित अर्जी स्थानीय निकाय विभाग मंत्री, प्रिंसीपल सचिव व डायरैक्टर समक्ष पेश होकर 11 जून को दी गई थी।

इस पर कार्रवाई करते आज स्थानीय निकाय विभाग के प्रमुख चौकसी अधिकारी की टीम के अधिकारियों ने मानसा नगर कौंसिल दफ्तर में पहुंचकर शिकायत करने वाले काऊंसलरों को बुलाकर उनके सामने सारा रिकॉर्ड चैक कर रिकॉर्ड की छानबीन की। पता चला है कि प्रारंभिक जांच में कुछ और घपले भी सामने आए हैं लेकिन इस संबंधी अधिकारिक तौर पर कोई पुष्टि नहीं हो सकी। इस मौके मुख्य चौकसी विभाग की टीम ने कार्यकारी अधिकारी नगर कौंसिल मानसा को हिदायत दी कि विभिन्न ब्रांचों के जिम्मेवार अधिकारियें को समेत रिकॉर्ड लेकर सोमवार को चंडीगढ़ मुख्य दफ्तर आने के लिए कहा गया है।

विजीलैंस जांच की रखी मांग | Mansa News

काऊंसलर प्रेम सागर भोला, विशाल जैन गोल्डी व वार्ड नम्बर 13 के काऊंसलर रंजना के पति एडवोकेट अमन मित्तल आदि भी मौजूद थे। उन्होंने मांग की कि भले ही मुख्य चौकसी विभाग की टीम के अधिकारियों ने प्रारंभिक जांच गहनता से की है, लेकिन अगर इन सभी मामलों की जांच भी विजीलैंस टीम करे तो बहुत से और भी घपले पकड़े जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें:– HKRN: हरियाणा कौशल में नौकरी लगवाने के नाम पर ठगे 20 लाख रुपए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here