लेफ्टिनेंट बनकर लौटा उज्वजल सोनी, किया स्वागत

  • माता-पिता ने कंधों पर लगाया स्टार

हनुमानगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। टाउन निवासी उज्जवल सोनी के इंडियन आर्मी में लेफ्टिनेंट बनकर मंगलवार को हनुमानगढ़ लौटने पर माला पहनाकर स्वागत किया गया। ओटीए चेन्नई में हुए पासिंग आउट परेड कार्यक्रम में उज्जवल सोनी के कंधों पर उसके पिता व माता ने कंधों पर स्टार लगाया। मंगलवार को टाउन के रेलवे स्टेशन पर पहुंचे उज्जवल सोनी का परिवार व शहर के नागरिकों ने माला पहनाकर व मिठाई खिलाकर स्वागत करते हुए बधाई दी। उज्जवल सोनी के पिता राजकुमार सोनी इन्सां ने बताया कि उज्जवल की चेन्नई के ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकेडमी (ओटीए) में 11 माह की ट्रेनिंग हुई। उन्होंने कहा कि बेटे के लेफ्टिनेंट बनने पर बड़ी खुशी है।

उनका भी सपना था कि उज्वजल सोनी भारतीय सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करे। आज पूरा परिवार गर्व महसूस कर रहा है। लेफ्टिनेंट उज्वजल सोनी ने बताया कि कुछ माह पहले इंडियन आर्मी के लिए उसका इलाहाबाद में पांच दिन इंटरव्यू हुआ था। उसके बाद 11 माह की ट्रेनिंग ओटीए चेन्नई में हुई। 30 जुलाई को ही उसकी ट्रेनिंग समाप्त हुई है। ट्रेनिंग के दौरान मुश्किल से तीन या चार घंटे सोते थे। 11 माह की मुश्किल ट्रेनिंग के बाद कंधों पर स्टार लगे देखकर खुद की खुशी का भी ठिकाना नहीं रहा था। अपने माता-पिता की आंखों में आंसू देखकर खुशी का अहसास हुआ। आज वह हनुमानगढ़ पहुंचा है। यहां हुए स्वागत से भी वह अभिभूत हुआ है। यह समय पूरे परिवार के लिए गर्व का है।

उज्वजल सोनी ने बताया कि वे तीन भाई-बहन हैं। तीनों का सपना था कि कोई एक आर्मी या नेवी में भर्ती होकर देश सेवा करे। उसका 12वीं के बाद एनडीए का एग्जाम हुआ। लेकिन दो-तीन बार वह क्लियर नहीं कर पाया। इसके बाद ग्रेजुएशन पूरी कर एग्जाम दिया। इसमें वह सफल रहा। देश के लिए कुछ करने के जज्बे ने उसे आज इस जगह पहुंचाया है। शुरूआत में उसे भी नहीं लगा था कि वह सफलता प्राप्त कर पाएगा। शुरूआती एक माह में बड़ी दिक्कतें आई। तमाम मुश्किलें पार कर वह इस मुकाम तक पहुंचा है। इस मौके पर उज्वजल सोनी की माता नीलम सोनी, बहन काजोल सोनी सहित परिवार के अन्य सदस्य मौजूद रहे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here