हमें अपने ‘सतगुरु’ पर दृढ़ विश्वास था, है और रहेगा

0
990
Dera Devotees Faith

साध-संगत बोली, बढ़ते रहेंगे मानवता भलाई की ओर कदम

फतेहाबाद (सच कहूँ/विनोद शर्मा)। पंचकूला सीबीआई कोर्ट द्वारा रणजीत मामले में सुनाए गए फैसले को लेकर साध-संगत ने कहा कि वे अदालत के फैसले का सम्मान करते हैं, परंतु एक दिन ऐसा आएगा जब दूध का दूध और पानी का पानी होगा। साध-संगत ने कहा कि सत्य परेशान हो सकता है, परंतु पराजित नहीं। एक दिन हमें जरूर न्याय मिलेगा हमें अपने सतगुरु पर दृढ़ विश्वास था, है और हमेशा रहेगा। डेरा श्रद्धालुओं ने एक सुर में कहा कि डेरा सच्चा सौदा द्वारा चलाए जा रहे मानवता भलाई कार्य वह इसी तरह करते रहेंगे साध-संगत ने कहा कि मानवता भलाई कार्यों में डेरा सच्चा सौदा ने पूरे विश्व में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। ब्लॉक जिम्मेदारों ने कहा कि जब लोग अपने घरों में कोरोना काल के दौरान दुबके बैठे थे तब साध-संगत ने लोगों के बीच में जाकर राशन वितरिण व रक्तदान किया था।

डेरा श्रद्धालु मंगतराम ने कहा कि वेश्याओं को बेटी बनाकर उनकी शादी करवाना, निराश्रयों को मकान बनाकर देना, जीते जी गुर्दादान, मरणोपरांत अंगदान, शरीरदान इत्यादि पूज्य गुरु जी द्वारा चलाए जा रहे 135 बेमिसाल कार्य अदभूत, अकल्पनीय व अनुकरणीय है। उन्होंने कहा कि साध-संगत इसी कड़ी के तहत मानवता भलाई कार्य करती रहेगी और डेरा सच्चा सौदा के साथ तन-मन-धन के साथ खड़ी रहेगी।

ब्लॉक जिम्मेवार सुनील कुकड़ावाली ने कहा कि डेरा सच्चा सौदा द्वारा पर्यावरण संरक्षण के तहत अब तक करोड़ों पौधे रोपित किए जा चुके हैं। पर्यावरण संरक्षण मुहिम के तहत दुनियाभर में किए गए पौधारोपण में चार विश्व रिकॉडर्स शामिल हैं। पूज्य गुरु जी ने समाज में व्याप्त कुरीतियों का खात्मा करने के लिए बड़े स्तर पर जागरूकता अभियान चलाते हुए मानवता भलाई के 135 कार्य शुरू किए हैं, जिनकी बदौलत आज समाज में इंसानियत की जिंदा है।

कुकड़ा वाली ब्लॉक के जिम्मेवार मोहर सिंह ने कहा की कोरोना जैसी महामारी, जिसमें लोग अपने परिवार के संक्रमित मृतकजनों की अर्थी को कंधा देने से कतरा रहे हैं, वहीं ये सेवादार समाज के कोने-कोने में राहत पहुंचा रहे हैं। डेरा सच्चा सौदा का पूरा इतिहास इंसानियत के सेवा कार्यों से भरा पड़ा है। जब भी देश में कोई प्राकृतिक आपदा आई है तो डेरा सच्चा सौदा की शाह सतनाम जी ग्रीन एस वेल्फेयर फोर्स विंग द्वारा प्रशासन के साथ मिल कर किए गए राहत कार्यों से हर कोई उन्हें सैल्यूट करता नजर आया है।

जिम्मेदार जगजीत इन्सां ने कहा कि समय-समय पर भारतीय सेना के साथ-साथ पत्रकारों, पुलिस कर्मचारियों, थैलेसीमिया व एड्स पीड़ित मरीजों के अलावा देश व दुनिया भर में जरूरतमंद व्यक्तियों को रक्त की आपूर्ति डेरा सच्चा सौदा ही करता आया है। मानवता भलाई कार्यों में सर्व धर्म संगम डेरा सच्चा सौदा के नाम 79 गिनीज वर्ल्ड रिकार्डों में चार वर्ल्ड रिकॉर्ड रक्तदान के क्षेत्र में दर्ज हैं।

ब्लॉक भंगीदास कपिल ग्रोवर ने कहा कि पूज्य गुरु जी द्वारा स्थापित की गई शाह सतनाम जी ग्रीन एस वेल्फेयर फोर्स विंग ने ऐसी स्वयंसेवी संस्था के रूप में पहचान बनाई जो देश-विदेश में कहीं भी कोई भी आपदा आती है तो पहली कतार में मद्द के लिए खड़ी मिलती है। फिर चाहे गुजरात का भूकंप हो, राजस्थान, उड़ीसा का सूखा, देश-विदेश में सुनामी हो, उत्तराखंड, जम्मू या हरियाणा-पंजाब में बाढ़ हो, हर प्राकृतिक आपदा में सबसे पहले पहुंच कर पीड़ितों की मदद डेरा सच्चा सौदा की शाह सतनाम जी ग्रीन एस वेल्फेयर फोर्स विंग द्वारा की गई है।

 एक दिन सच्चाई का सूरज पूरी चमक-दमक लेकर निकलेगा’

आज सीबीआई अदालत की ओर से पूज्य गुरू जी विरुद्ध सुनाए गए फैसले पर प्रतिक्रिया देते कहा कि डेरा श्रद्धालुओं ने कहा कि हमें अपने सतगुरू पर पूर्ण भरोसा है और एक दिन सच की जीत जरूर होगी। साध-संगत को अपने मुर्शिद पर पूर्ण भरोसा है और सच्चाई एक दिन सभी के सामने जाहिर हो जाएगी।

हमें न्यायपालिका पर पूर्ण भरोसा, रास्ते अभी और भी बहुत हैं: रामकरन इन्सां

फैसले संबंधी बातचीत करते डेरा सच्चा सौदा की साध-संगत के राजनीतिक विंग के सदस्य रामकरन इन्सां ने कहा कि साध-संगत को अपने पूर्ण मुर्शिद पर पूर्ण विश्वास है। उन्होंने कहा कि यह अभी निचली अदालत की ओर से जो फैसला सुनाया गया है, अभी न्याय का रास्ता बंद नहीं हुआ। ऊपरी अदालत में से हमें जरूर न्याय मिलेगा। हमें संविधान पर पूरा भरोसा और आगे न्याय के और भी रास्ते काफी हैं। उन्होंने कहा कि पूज्य गुरू जी की ओर से हमेशा ही सच्चाई के रास्ते पर चलने की शिक्षा दी गई है, जिस कारण वह सच्चाई के रास्ते पर स्थिरता सये चलते रहे हैं और हमेशा चलते रहेंगे।

पूज्य गुरू जी ने हमें हमेशा इंसानियत का पाठ पढ़ाया: रिपन इन्सां

इस संबंधी बातचीत करते संगरूर के युवा डेरा श्रद्धालु रिपन इन्सां ने कहा कि पूज्य गुरू जी पर लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद हैं और एक साजिश हैं उन कहा कि हाईकोर्ट में उनको जरूर न्याय मिलेगा और सच सामने आएगा। हमें पूज्य गुरू जी पर पूर्ण भरोसा है। अदालत की तरफ से जो फैसला सुनाया गया है, उससे आगे भी बहुत रास्ते हैं। उन्होंने कहा कि हम डेरा सच्चा सौदा के साथ दशकों से जुड़े हुए हैं, पूज्य गुरू जी ने हमेशा ही हमें इंसानियत का पाठ पढ़ाया है, जिनके वचनों पर चलते आज भी साध-संगत दिन-रात मानवता भलाई के कार्यों में लगी हुई है और आगे भी इस से तेज रफ़्तार से लगी रहेगी। उन्होंने कहा कि हमें देश की न्यायिक प्रणाली पर पूर्ण भरोसा है, वह दिन दूर नहीं जब सच्चाई का सूरज झूठ के बादलों को साफ कर देगा।

पूज्य गुरू जी की शिक्षाओं पर अमल करते डेरा श्रद्धालुओं ने रक्तदान करके बचाई हैं सैंकड़ों जिन्दगियां : राजिन्द्र्र इन्सा

संगरूर के खूनदान समिति के जिम्मेदार राजिन्द्र कालड़ा इन्सां ने कहा कि पूज्य गुरू जी की पावन शिक्षाओं पर चलते वह पिछले कई सालों से सेवा कार्याें में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि आज के समय में खूनदान ही सबसे बड़ी सेवा है, डेरा श्रद्धालु रक्तदान करने के लिए हर समय तैयार रहते हैं, जिससे हर साल सैंकड़ों लोगों की जान बचती है। पूज्य गुरू जी ने रक्तदानियों के जजबे को देखकर डेरा डेरा श्रद्धालुओं को ‘ट्रर्यू ब्लड पंप’ का खिताब भी दिया है। उन्होंने कहा कि रक्तदान करने से लोगों की जानें बचाने वाले किसी की जान ले नहीं सकते। उन्होंने कहा कि एक दिन ऐसा भी आएगा जब चारों तरफ सच्चाई का बोलबाला होगा।

न्याय की उम्मीद खत्म नहीं हुई : शमशेर रिंकू इन्सां

डेरा श्रद्धालु शमशेर रिंकू इन्सां संगरूर ने कहा कि जो माननीय अदालत की ओर से आज पूज्य गुरू जी के खिलाफ फैसला सुनाया है उससे न्याय का रास्ता बंद नहीं होता। इसके खिलाफ उच्च अदालत का दरवाजा खटखटाया जाएगा। सीबीआई अदालत ने पूज्य गुरू जी खिलाफ फैसला सुनाया है, परन्तु न्याय की उम्मीद खत्म नहीं हुई है, हमें देश के न्याय और कानून प्रणाली पर पूर्ण भरोसा है और हमें न्याय जरूर मिलेगा। उन्होंने कहा कि इस फैसले के बावजूद साध-संगत का पूज्य गुरू जी पर विश्वास ज्यों का त्यों है और साध-संगत पूज्य गुरू जी की तरफ से बताए मानवता भलाई के कार्यों के अंतर्गत जरूरतमंदों की मदद के लिए हमेशा आगे रहेगी और भलाई के मार्ग से कभी पीछे नहीं हटेगी।

हमें दृढ़ यकीन, सच्चाई एक दिन सब के सामने आएगी : बलविन्द्र इन्सां

सीबीआई अदालत की ओर से जो पूज्य गुरू जी के खिलाफ फैसला सुनाया गया है, उससे साध-संगत को रत्ती भर भी फर्क नहीं आया है क्योंकि हमारे देश की न्यायिक व्यवस्था इससे भी आगे है, हमें पूर्ण यकीन है कि सच्चाई एक दिन जरूर बाहर आ जायेगी। हमारा समूह परिवार पिछले लंबे समय से डेरा सच्चा सौदा के साथ जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा पूज्य गुरू जी ने हमेशा ही उनको मानवता भलाई के कार्यों की शिक्षा दी है, जिसको ग्रहण करते हमारा समूह परिवार लंबे समय से समाज भलाई के कार्यों में लगा हुआ है। उन्होंने कहा कि डेरा सच्चा सौदा में तो यदि कोई सांप या कोई जहरीला जानवर आ जाये तो उसे पकड़ कर दूर छोड़ दिया जाता है। डेरा सच्चा सौदा की सोच इन बेजुबानों के लिए इतनी दयालू है तो वह किसी व्यक्ति का जानी नुक्सान कैसे सकते हैं या सोच भी सकते हैं।

जब तक स्वास जुड़े रहेंगे, हम भलाई कार्यों के साथ : हरमेल घग्गा

45 मैंबर हरमेल सिंह घग्गा डेरा सच्चा सौदा का कहना है कि आज के इस कलियुग में सभी अपने-अपने काम-धंधों में लगे हुए हैं और किसी के पास इतना समय नहीं कि वह अपने पड़ोसी का दुख दर्द बांट सके परन्तु इससे उलट डेरा श्रद्धालु दूर-दूर जाकर जरूरतमंदों की मदद करने में लगे हुए हैं। जब अपने मरीज को खून देने से मुँह मोड़ लेते हैं तो डेरा श्रद्धालु रात को खूनदान देकर आते हैं। उन्होंने कहा कि डेरा सच्चा सौदा समाज में समाज भलाई के कार्य करने वाली संस्था है और हर दीन-दुखियों की हाथ डेरा श्रद्धालुओं की ओर से आगे होकर पकड़ा जा रहा है। उन्होंने कहा कि साध-संगत की तरफ से हर धर्म का दिल से सत्कार किया जाता है। हरमेल सिंह ने कहा कि जब तक स्वास हैं, वह इसी तरह ही मानवता भलाई के कार्य करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि ब्लॉकों में साध-संगत की ओर से अनेकों कार्य किए जा रहे हैं जो कि आगामी दिनों में भी ज्यों की त्यों जारी रहेंगे।

मानवता भलाई के कार्याें को और तेजी से किया जाएगा : हरमिन्द्र नोना

डेरा सच्चा के पूज्य गुरू जी की तरफ से मानवता भलाई की शिक्षा देकर इंसानियत का पाठ पढ़ाया गया है और आज करोड़ों की संख्या में साध-संगत मानवता भलाई के कार्य कर रही है। उपरोक्त शब्द 45 मैंबर हरमिन्द्र नोना ने कहे। उन्होंने कहा कि डेरा सच्चा सौदा के साथ जुड़ने के बाद ही उनको अपने जीवन के असली उद्देश्य का पता चला है। पूज्य गुरू संत डॉ. गरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की ओर से यही शिक्षा दी गई है कि इन्सान हमारे गुरूओं-पीरों द्वारा दिखाए गए रास्तों पर चले। किसी के साथ जात-पात, धर्म के आधार पर वैर-विरोध रखना इन्सान का काम नहीं, बल्कि सभी धर्मों की ओर से दीं गई शिक्षाओं को ग्रहण करना ही इन्सान का असली कार्य है। उन्होंने कहा कि वह गुरू जी की तरफ से चलाए जा रहे 135 मानवता भलाई के कार्यों को और भी तेज करेंगे ताकि समाज में आपसी प्रेम भाईचारे की गंगा बह सके। हरमिन्द्र नोना ने कहा कि साध-संगत का विश्वास अटूट है और पहले की तरह ही समाज भलाई के काम जारी रहेंगे।

जरूरतमंदों की सेवा करना ही डेरा श्रद्धालुओं का असली मकसद: करनपाल

45 मैंबर करनपाल पटियाला का कहना है कि वह डेरा सच्चा सौदा के साथ काफी सालों से जुड़े हुए हैं। डेरा सच्चा सौदा के साथ जुड़ने के बाद वह लगातार ही पूज्य गुरू जी द्वारा दिखाए गए मार्ग के अंतर्गत समाज सेवा में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि किसी भूखे को खाना खिलाना, प्यासे को पानी पिलाना, जरूरतमंद व्यक्ति की मदद करना आदि ऐसे कार्याें की समझ डेरा सच्चा सौदा के साथ जुड़ कर ही आई है। उन्होंने कहा कि साध-संगत लगातार ऐसे कार्य कर रही है, जो कि सरकारों ने करने होते हैं, परन्तु पूज्य गुरू जी द्वारा दिखाए गए मार्गों पर चल कर साध संगत समाज में बिना किसी भेदभाव के सेवा में जुटी हुई है। उन्होंने कहा कि जब देश में कहीं भी आपदा आई है तो डेरा श्रद्धालुओं ने आगे होकर मदद की है। उन्होंने कहा कि समाज भलाई के कार्यों को और तेज किया जाएगा।

करोड़ों श्रद्धालु दूसरों के दु:ख को अपना दुख समझते हैं: प्रेमलता

पे्रमलता 45 मैंबर डेरा सच्चा सौदा का कहना है कि पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की तरफ से हमेशा दूसरों के दुख-सुख में खड़े होने की प्रेरणा दी गई है। जिस पर चल कर आज करोड़ों श्रद्धालु दूसरों के दुख को अपना दुख समझते हुए उसे दूर करने में सहायता कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज डेरा सच्चा सौदा की ओर से हजारों लड़कियों के लिए सिलाई सैंटरें के द्वारा सिलाई-कढ़ाई का काम सिखा कर रोजगार के काबिल बनाया जा रहा है। इसी तरह ही गरीब बच्चों की पढ़ाई में मदद की जा रही है और स्कूल में प्रयोग में आने वाला सामान आदि मुहैया करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में भी ब्लॉकों की साध-संगत की तरफ से अधिक से अधिक मानवता भलाई के कार्यांे को पहल के आधार पर जारी रखा जायेगा और अपने पूज्य गुरू जी के वचनों पर फूल चढ़ाए जाएंगे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।