साइबर ठगों की बड़ी खुराफात, कपड़ों में छिपाकर चीन भेजे प्री एक्टिवेटिड सिम

0
131
cyber crime

लखनऊ। मुंबई के ठाणे से गिरफ्तार अब्दुल रज्जाक से पूछताछ में साइबर ठगी का बड़ा खुलासा हुआ है। खुलासे के अनुसार प्री-एक्टिवेटेड सिम के जरिए साइबर ठगी, आॅनलाइन खाते खोलने और कार्डलेस ट्रांजेक्शन करने वाले चाइनीज गैंग ने कपड़ों के पार्सल में छिपाकर हजारों प्री-ऐक्टिवेटेड सिम छिपाकर चीन भेजे हैं। उत्तर प्रदेश एटीएस अब्दुल रज्जाक को ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लेकर आ रही है।

एटीएस के मुताबिक एडीजी एलओ प्रशांत कुमार ने रज्जाक पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया था। रज्जाक के खिलाफ एनबीडब्ल्यू, 82सीआरपीसी वॉरंट व ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी कराया गया था। एटीएस के मुताबिक चीनी जूनवेई हॉन उर्फ जेम्स, उसकी पत्नी युन ताइ तियान उर्फ वीविया, जू जुनफू व ली तेंग ली उर्फ एलिस गुरुग्राम स्थित होटल स्टार स्प्रिंग के जरिए होटल के निदेशकों प्रशांत पोट्टेल्ली और अब्दुल रजाक, अब्दुल नबी मेमन की मदद से हजारों प्री-ऐक्टिवेटेड सिम बेचे गए। एटीएस मामले में चार चीनी नागरिकों समेत 22 लोगों को गिरफ्तार कर चुका है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।