भाजपा ने कुलदीप सेंगर की पत्नी संगीता का टिकट काटा

0
55
Sangeeta Sengar

लखनऊ (एजेंसी)। भारतीय जनता पार्टी ने उन्नाव के फतेहपुर चौरासी से घोषित जिला पंचायत सदस्य संगीता सेंगर का टिकट काट दिया है। उन्नाव की चार सीटों से विभिन्न दलों से विधायक रहे कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी संगीता सेंगर उन्नाव की निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। भाजपा ने उनको एक बार फिर टिकट दिया था। जिसके बाद से पार्टी में ही विरोध के सुर उठने लगे थे। भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने दूसरे चरण के चुनाव वाले क्षेत्रों की कानपुर में समीक्षा की थी। इसी दौरान प्रत्याशियों के नाम पर भी चर्चा होने लगी। लगातार विरोध को देखते हुए भाजपा ने संगीता का टिकट काट दिया है । भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि संगीता पार्टी की अधिकृत प्रत्याशी नहीं हैं। संगीता के पति कुलदीप सेंगर माखी कांड में दुराचार और पीड़िता के पिता की हत्या में आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं।

पहले टिकट दिया था

इससे पहले उत्तर प्रदेश में उन्नाव के बहुचर्चित माखी कांड में दुराचार तथा पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी को भारतीय जनता पार्टी ने फतेहपुर चौरासी से जिला पंचायत सदस्य का प्रत्याशी बनाया था। दुराचार में दोषी पाए जाने के बाद से भाजपा से निष्काषित कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष संगीता सेंगर को विरोध के बाद भाजपा ने उनका टिकट काट दिया है। अब बांगरमऊ से विभिन्न पार्टी से चार बार विधायक रहे सेंगर की पत्नी उन्नाव के फतेहपुर चौरासी से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव नहीं लड़ेंगी। उनको टिकट देने के फैसले का उन्नाव में भाजपा के नेता दबे स्वर में विरोध भी कर रहे हैं।

संगीता सेंगर उन्नाव से पहले भी जिला पंचायत अध्यक्ष थीं

संगीता सेंगर उन्नाव से पहले भी जिला पंचायत अध्यक्ष थीं। भाजपा ने उन्हेंं दोबारा टिकट दिया था लेकिन भारी विरोध के बाद उनका टिकट का दिया है। उन्नाव में तीसरे चरण यानी 24 अप्रैल को चुनाव होंगे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।