दुनिया के सबसे छोटे पर्वतारोही को सीएम ने किया सम्मानित

CM

हेयांश  का माउंट एवरेस्ट बेस कैंप पर तिरंगा फहराने के लिए प्रशंसा पत्र किया भेंट

  • मनोहर लाल बोले, हेयांश ने कम उम्र में प्रदेश का गौरव बढ़ाया

गुरुग्राम (सच कहूँ न्यूज)। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को गुरुग्राम जिला के गांव बाबरा बाकीपुर के बच्चे हेयांश कुमार का माउंट एवरेस्ट बेस कैंप पर तिरंगा फहराने के लिए उसे प्रशंसा पत्र भेंट किया और भविष्य के लिए उसे शुभकामनाएं दी। मनोहर लाल ने कहा कि इस बच्चे ने छोटी आयु में ही माउंट एवरेंस्ट बेस कैंप में 5364 मीटर की ऊंचाई पर तिरंगा फहराकर अदम्य साहस और दृढ़ निश्चय का परिचय दिया है और हरियाणा व गुरुग्राम जिला का नाम रोशन किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में खेलों का ऐसा माहौल है कि छोटी आयु से ही बच्चे खेलों में रुचि लेते हैं। खेल की इसी भावना का प्रदर्शन करते हुए हेयांश ने इतनी कम उम्र में राज्य का गौरव बढ़ाया है, वह दुनिया की सबसे ऊँची चोटी माउंट एवरेस्ट के बेस कैम्प तक पहुंचने वाला सबसे कम उम्र का पर्वतारोही बन गया है। मुख्यमंत्री ने हेयांश कुमार के माता-पिता को भी इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

सीएम हेयांश को किया दुलार, याद आया अपना बचपन

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बालक हेयांश कुमार को गोद में बैठाकर उसका दुलार किया और उससे खूब बातें की। उन्हें जैसे अपना बचपन याद आ गया हो, वे बच्चे की तरह ही हेयांश से वातार्लाप कर रहे थे। उन्होंने हेयांश को मिठाई खिलाई। उन्होंने हेयांश से जाना कि माउंट एवरेंस्ट चढ़ने का विचार कहां से आया, बेस कैंप में जाकर उसे कैसा लगा, क्या अच्छा लगा और क्या बुरा और कैसा अनुभव रहा।

सबसे कम उम्र का पर्वतारोही

उल्लेखनीय है कि 3 वर्ष, 7 माह और 27 दिन की अल्पआयु में गुरुग्राम जिला का हेयांश कुमार विश्व के सबसे कम उम्र का पर्वतारोही बन कर सुर्खियों में आया। हेयांश ने इतनी कम उम्र में माउंट एवरेस्ट बेस कैंप की चढ़ाई कर अद्भुत दृढ़ निश्चय का प्रदर्शन किया है और उसका बेस कैम्प समुद्र तल से 5364 मीटर की ऊँचाई पर था।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here