कांग्रेस की कुश्ती संघ को भंग करने, महिला पहलवानों के आरोपों के जांच की मांग

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। कांग्रेस नेता एवं औलम्पिक पदक विजेता मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने कहा है कि महिला पहलवानों के आरोपों को गंभीरता से लेते हुए कुश्ती संघ को भंग कर पहलवानों की शिकायतों की व्यापकता से जांच की जानी चाहिए। कांग्रेस नेता एवं मुक्केबाज विजेंदर सिंह तथा पार्टी प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने शुक्रवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पार्टी की सबसे पहली और महत्वपूर्ण मांग है कि कुश्ती संघ को तत्काल प्रभाव से भंग किया जाना चाहिए।

क्या है मामला

उन्होंने कहा,‘महिला सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है और देश की महिलाओं के साथ ही महिला खिलाड़ियों को सुरक्षित बनाए जाने की सख्त आवश्यकता है। देश की कुछ विशिष्ट महिला एथलीटों ने हिम्मत का परिचय दिया और अपने साथ होने वाले व्यवहार के खिलाफ तथा अन्य खिलाड़ियों के साथ यौन शोषण के मामले का खुलकर विरोध करना शुरू किया।ह्व
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि एथलीट विनेश फोगाट ने दावा किया था कि महिला खिलाड़ियों के साथ होने वाले दुर्व्यवहार की उन्होंने अक्टूबर 2021 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जानकारी दे दी थी। कांग्रेस नेताओं सवाल किया कि जब प्रधानमंत्री तक बात पहुंच गई थी तो श्री मोदी को बताना चाहिए कि उन्होंने इस मामले में चुप्पी क्यों साधी और कोई कदम क्यों नहीं उठाया।

प्रधानमंत्री से महिला खिलाड़ी फोगोट द्वारा यौन शोषण की जानकारी देने और उस श्री मोदी की चुप्पी को लेकर मुक्केबाज और कांग्रेस नेता विजेंदर सिंह कहा ‘संघ के प्रमुख के खिलाफ उनके आरोप बहुत गंभीर हैं। प्रधानमंत्री की चुप्पी निंदनीय है। इस मामले की तत्काल जांच की जानी चाहिए। पहलवानों के साथ केंद्रीय खेल मंत्री या किसी अधिकारी के बीच बातचीत की एक लाइव रिकॉर्डिंग होनी चाहिए ताकि यह पता चल सके कि उन्होंने क्या चर्चा की है और समझेंगे कि कौन गलत है और कौन सही है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी पहलवानों के समर्थन में खुलकर सामने आयीं और कहा ह्लआरोपों की जांच होनी चाहिए और उचित कार्रवाई की जानी चाहिए।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here