लापता बेटी को ढूंढने की बुजुर्ग पिता ने लगाई गुहार

पुलिस ने रिपोर्ट नही की दर्ज तो एसडीएम के दरबार पहुँचा बुजुर्ग

  • एसडीएम ने पुलिस को लगाई फटकार
  • लोकेशन- रामपुर मनिहारान

रामपुर (सच कहूँ/तारिक़ सिद्दीक़ी)। संपूर्ण समाधान दिवस के बीच पहुचें एक पीड़ित बुजुर्ग ने एसडीएम से पिछले 15 दिन से लापता अपनी शादीशुदा बेटी को ढूंढ़वाने की गुहार लगाई है। पीड़ित ने पुलिस पर उसकी रिपोर्ट दर्ज न करने का आरोप लगाया, साथ ही बेटी के साथ किसी अनहोनी की आशंका भी जताई है। एसडीएम ने पीड़ित की शिकायत को गंभीरता से लेकर नानोता थाने को फटकार लगाते हुए एसपी देहात को पूरे मामले की जांच को पत्र भेजा है।

यह भी पढ़ें:– जानलेवा हमले के आरोपी को पुलिस करे गिरफ्तार

शनिवार को तहसील परिसर में आयोजित संपूर्ण समाधान में एसडीएम संगीता राघव ने जन समस्याओं को सुना। जब एसडीएम जनता की फरियाद सुन रही थी इसी बीच लाठी के सहारे चलते हुए करीब 65 वर्षीय एक बुजुर्ग आंखों में आंसू लिए तहसील दिवस में पहुँचा। और एसडीएम को शिकायती पत्र देते हुए बोला मैडम जी मेरी शादीशुदा बेटी पिछले 15 दिनों से लापता है। थाने वाले रिपोर्ट दर्ज नही कर रहे मोहताज आदमी हु इस उम्र में कहा जाऊ थाने के चक्कर काट-काटकर थक चुका हु। थाने जाता हूं तो पुलिसकर्मी उल्टा मुझे ही धमका कर भगा देते है। बुर्जुग हाथ जोड़कर बोला मैडम जी आपसे विनती है मेरी बेटी को ढूंढ़वा दीजिए।

बुजुर्ग की बात को गम्भीरता से सुनकर एसडीएम ने अलाउंसमेन्ट कर नानौता थाने से समाधान दिवस में पहुचें एक दरोगा को तलब किया। एसडीएम संगीता राघव ने दरोगा से बुजुर्ग की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज ने किए जाने का कारण पूछा तो दरोगा जी पर कोई जवाब न बन पाया। एसडीएम के सवाल पर दरोगा जी बगले झांकने लगे। एसडीएम ने दरोगा को फटकार लगाई। और वृद्ध व्यक्ति को न्याय दिलाने के लिए पूरे मामले की जांच को एसपी देहात को पत्र भेजा है। इस दौरान सम्पूर्ण समाधान दिवस में 28 फरियादियों ने अपनी समस्याओं को एसडीएम के समक्ष रखा। जिनमें 3 समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण कराया गया। जबकि अन्य शिकायती पत्रों को संबंधित विभागों को सौंप कर जल्द से जल्द निस्तारण कराए जाने के निर्देश दिए गए।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here