कमरे में जलाया था अलाव: दम घुटने से पांच वर्षीय मासूम की मौत, दो गंभीर घायल

दोनों पीजीआई रोहतक रेफर

बहादुरगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। ठंड में दम घुटने से मौत का सिलसिला नहीं थम रहा। अब गणपति धाम परिसर में पुजारी और उसका परिवार हादसे का शिकार हो गया। पांच वर्षीय मासूम बच्ची की मौत हो गई जबकि पुजारी और उसकी पत्नी को पीजीआई रोहतक रेफर किया गया है। उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। दरअसल, उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ निवासी करीब 28 वर्षीय दीपक यहां गणपति धाम में पुजारी है। परिसर में ही बने एक कमरे में दीपक अपनी पत्नी 24 वर्षीय श्वेता व बेटी 5 वर्षीय गुनगुन के साथ रहता है। शुक्रवार की रात को दीपक और उसका परिवार भोजन करके कमरे में सो गया था। ठंड से बचने के लिए कमरे में अलाव जलाया गया था।

यह भी पढ़ें:–हरियाणा की जेलों में बदलेगा ब्रिटिश काल का खान, पान व समय

शनिवार की सुबह जब पुजारी दीपक नहीं उठे तो उनका दरवाजा खटखटाया गया। काफी देर खटखटाने पर भी नहीं खुला तो दरवाजा तोड़ा गया। देखा तो तीनों बेसुध थे। मासूम गुनगुन की सांस थम चुकी थी तो दीपक और उसकी पत्नी की धड़कन चल रही थी। आनन -फानन में उनको अस्पताल ले जाया गया। जहां से पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया। अभी उनकी हालत गंभीर है। वहीं सूचना पाकर सेक्टर छह थाना पुलिस और एफएसएल टीम ने मौके पर पहुंचकर जांच की। कमरे से जली हुई लकड़ियां बरामद हुई हैं। जिससे सुबह हल्का धुआं भी निकलता नजर आया। धुएं और दम घुटने से मौत की आशंका जताई जा रही है। पुलिस जांच कर रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here