हिमाचल प्रदेश भाजपा नेता प्रवीण शर्मा नहीं रहे

हमीरपुर/ऊना (एजेंसी)। हिमाचल प्रदेश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता प्रवीण शर्मा का गुरुवार को निधन हो गया। वह 65 वर्ष के थे। ऊना जिले के पोलियां पुरोहितन गांव के रहने वाले शर्मा ने वीरवार सुबह अपने अंब कसवा स्थित आवास पर अंतिम सांस ली। वर्ष 65 वर्ष के थे और उनके परिवार में बीमार पत्नी और एक बेटा है। शर्मा 2003 में पहली बार विधायक चुने गए और उन्होंने राज्य में पी के धूमल के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में आबकारी एवं कराधान-सह-युवा कल्याण एवं खेल मंत्री के रूप में सेवा दी। उन्होंने अपने कॉलेज के दिनों में कांगड़ा जिले में एबीवीपी आंदोलन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था और आपातकाल के दौरान उन्हें जेल भी जाना पड़ा था। वह राज्य के अन्य वरिष्ठ भाजपा नेताओं के साथ 18 महीने तक जेल में रहे। शर्मा के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ घनिष्ठ संबंध थे और 1998 में जब मोदी हिमाचल प्रदेश के पार्टी मामलों के प्रमुख थे, तब उनके दौरे के दौरान उन्हें अपने स्कूटर पर जिले के विभिन्न हिस्सों में ले जाते थे।

हिमाचल के सीएम ने गहरा दुख जताया

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने प्रवीण शर्मा के निधन पर गहरा दुख जताया। उन्होंने शोक संदेश में कहा कि पार्टी ने अपना एक सबसे मजबूत नेताओं में से एक नेता को खो दिया है जो हमेशा गरीबों के अधिकार के लिए लड़ा करते थे। हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री पी के धूमल ने कहा कि शर्मा का निधन उनके लिए एक व्यक्तिगत क्षति है और ऐसा लग रहा था कि ‘मैंने अपनी आत्मा खो दी है। संगठन और जनता के लिए काम करने वाले शर्मा को पूरा राज्य हमेशा याद रखेगा। शर्मा का अंतिम संस्कार आज दोपहर बाद ऊना जिले के अंब कसवा के पास श्मशान घाट में होगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here