अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गर्भपात पर रोक लगाने के दूसरे विधेयक पर किए साइन

वाशिंगटन (एजेंसी)। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने गर्भपात अधिकार की रक्षा करने वाले दूसरे विधेयक पर भी हस्ताक्षर किए। बाइडेन ने गर्भपात अधिकार की रक्षा पर हस्ताक्षर करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट और रिपब्लिकन पार्टी को अमेरिकी महिलाओं की शक्ति का आभास नहीं है। खालिज टाइम्स ने गुरुवार को अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी। बिडेन ने बुधवार को गर्भपात की रक्षा के अधिकारों पर हस्ताक्षर किए। इस आदेश के लागू होने के बाद संघीय स्वास्थ्य विभाग को अधिकार होगा कि वह गर्भपात के लिए दूसरे राज्यों की यात्रा करने वाली महिलाओँ की मदद के लिए मेडिकल फंड का इस्तेमाल कर सकेगा। इससे पहले जुलाई में अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपने पहले आदेश में हस्ताक्षर किए थे। इसका मकसद सुप्रीम कोर्ट के देशभर में गर्भपात के सांविधानिक अधिकार पर रोक लगाने से परेशान महिलाओं को राहत दिलाना था। इस दूसरे कानून का भी हालांकि ज्यादा असर होने की उम्मीद नहीं है, क्योंकि अमेरिकी राज्यों में जहां रिपब्लिकन सत्ता में हैं, वे गर्भपात पर पाबंदियां और सख्त करते जा रहे हैं। इससे संबंधित दवाइयों पर प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं।

Joe Biden

क्या है मामला

राष्ट्रपति की कार्रवाई के एक दिन पहले ही कंसास में वोटरों ने राज्य के संविधान से गर्भपात की रक्षा करने वाले कानून को हटाने का प्रस्ताव खारिज कर दिया था। इसे गर्भपात समर्थकों की जीत के तौर पर देखा गया था। सुप्रीम कोर्ट की व्यवस्था के बाद इस मुद्दे पर यह किसी प्रांत में पहला चुनाव था। डेमोक्रेट्स को उम्मीद है कि गर्भपात अधिकार के मुद्दे से उन्हें अमेरिका के कई प्रांतों में सत्ता हासिल हो सकती है। बिडेन ने कंसास के नतीजों को ‘निर्णायक जीत’ कहा और कहा कि प्रांत में मतदाताओं ने एक जोरदार संकेत दिया है जिससे यह स्पष्ट है कि राजनेताओं को महिलाओं के मौलिक अधिकारों में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here