फर्नीचर के गोदाम में आग लगने से लाखों रु. का नुक्सान, गोदाम की इमारत भी गिरी, आधा दर्जन गाड़ियों ने बुझाई आग

0
180
Fire

संगरूर, धूरी, मालेरकोटला व बरनाला से मंगवानी पड़ी दमकल गाड़ियां

सुनाम उधम सिंह वाला (सच कहूँ न्यूज)। शुक्रवार सुबह जाखल छाजली रोड़ पर मौजूद गणेश फर्नीचर हाउस के गोदाम में अचानक आग लग गई। इस कारण लाखों रुपये का फर्नीचर जलकर राख हो गया। आग के कारण गोदाम की बिल्डिंग भी गिर गई। गोदाम पर मालिक अमित कुमार ने बताया कि शुक्रवार प्रात:काल अचानक ही उनके छाजली रोड़ पर स्थित गोदाम में आग लग गई। इसकी जानकारी उनको गोदाम में काम करती लेबर की तरफ से दी गई। उन्होंने कहा कि जैसे ही वह अपने गोदाम में पहुंचे तो आग भयानक रूप धारण कर चुकी थी।

गोदाम में पड़ा लाखों रुपये का सामान जलकर राख हो गया। मौके पर आग को काबू करने के लिए फायर बिग्रेड की आधा दर्जन से ज्यादा गाड़ियां पहुंच गई, लेकिन सामान जलने तक आग नहीं बुझ सकी। सारा समान जलकर राख हो गया। इस मौके प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। आग लगने के कारणों का अभी तक पता नहीं लग पाया।

पांच जगहों से पहुंची फायरब्रिगेड की गाड़ियां

अमित ने बताया कि सुबह के समय राहगीरों व गोदाम में काम करने वाले वर्करों से चला। उन्होंने तुरंत प्रशासन व फायर ब्रिगेड को सूचित किया। जाकर देखा तो गोदाम आग का कुंड बन चुका था। उसमें रखा लकड़ी का फर्निचर, सोफे, कुर्सियां, मेज इत्यादि कड़-कड़ की आवाज से तेजी से जलते जा रहे थे। ऐसे में आग पर काबू पाने के लिए सुनाम, संगरूर, धूरी, मालेरकोटला व बरनाला से दमकल गाड़ियां मंगवानी पड़ी। दमकल स्टाफ द्वारा कई घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक फर्नीचर जल चुका था। इसके अलावा गोदाम में गद्दे बनाने के लिए रखी मशीनरी भी तबाह हो गई। उन्होंने बताया कि कुछ दिन के बाद पटियाला रोड़ पर गांव बिशनपुरा में बनाई इमारत में शिफ्ट किया जाना था। गोदाम मालिकों ने सरकार से मुआवजे की मांग की है।

सरकार दे व्यापारी को मुआवजा: कांसल

गोदाम में आग लगने की जानकारी मिलने पर इंडस्ट्री चैंबर के जिला प्रधान घनश्याम कांसल भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि दुकान के मालिक का बड़े पैमाने पर नुकसान हो गया है। सरकार को इस व्यापारी को बनता मुआवजा देना चाहिए। उन्होंने मांग की कि ऐसी आपदा में व्यापारी की मदद के लिए सरकार को विशेष पालिसी बनानी चाहिए, ताकि व्यापारियों को आर्थिक नुकसान होने से बचाया जा सके।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlinked in , YouTube  पर फॉलो करें।