बंगाल में फिर ममता का जादू, असम में भाजपा, केरल में वामपंथी और तमिलनाडू में स्टालिन सरकार के आसार : सर्वे

0
158

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव का शंखनाद हो चुका है। इस बीच एबीपी न्यूज-सी-वोटर ने मतदाताओं के मूड को भांपने के लिए एक सर्वे किया, जिसमें पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस फिर सरकार बनाती नजर आ रही है। हालांकि, उसकी कुछ सीटें घटने की संभावना हैं। वहीं असम में बीजेपी की सरकार बनने के आसार दिखे रहे हैं। पुडुचेरी से भी बीजेपी के लिए अच्छी खबर आने की संभावना है, यहां पहली बार भाजपा सरकार बन सकती है। सर्वे के मुताबिक तमिलनाडु में इस बार सत्ता परिवर्तन के आसार हैं। केरल में फिर वामपंथी सरकार बन सकती है।

पश्चिम बंगाल में दीदी का जलवा कायम

सर्वे के अनुसार, पश्चिम बंगाल में तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी जीत की हैट्रिक बनाती दिख रही हैं। 294 सीटों वाली पश्चिम बंगाल विधानसभा में टीएमसी को 148 से 164 सीटें मिल सकती हैं। पिछली बार 3 सीटें जीतने वाली भाजपा को 92 से 108 सीटें मिलने की संभावना है। वहीं लेफ्ट-कांग्रेस गठबंधन के खाते में 31 से 39 सीटें आ सकती हैं।

असम में भाजपा सरकार बनने के आसार

सर्वे के मुताबिक, 126 विधानसभा सीटों वाले असम में फिर से भारतीय जनता पार्टी बनने की संभावना है। पार्टी को 68-76 सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस गठबंधन को 43-51 सीटें और अन्य के खाते में 5-10 सीटें जा सकती हैं। पूर्वोत्तर राज्य असम में अभी बीजेपी के सवार्नंद सोनोवाल मुख्यमंत्री हैं।

तमिलनाडु में स्टालिन हाथ आ सकती है सत्ता

सर्वे के अनुसार तमिलनाडु में सत्ता परिवर्तन के आसार नजर आ रहे हैं। यहां एआईएडीएमके-भाजपा गठबंधन को करारी हार झेलनी पड़ सकती है। तमिलनाडु में विधानसभा की 234 सीटें हैं। सर्वे के मुताबिक यहां बीजेपी-एआईएडीएमके गठबंधन को 58 से 66 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है। डीएमके-कांग्रेस गठबंधन को 154 से 162 सीटें मिल सकती हैं। वहीं अन्य के खाते में 8 से 20 सीटें जाने का अनुमान है।

केरल में फिर से लेफ्ट सरकार

अगर बात केरल की करें तो लेफ्ट फ्रंट अपना गढ़ बचाने में कामयाब हो सकता है। 140 सदस्यों वाली केरल विधानसभा में लेफ्ट के गठबंधन लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट फिर से सरकार बनाता नजर आ रहा है। सर्वे के मुताबिक एलडीएफ को 83-91 सीटें, कांग्रेस की अगुआई वाले यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट को 47-55 सीटें मिल सकती हैं। बीजेपी को 0 से 2 सीटें मिलने का अनुमान है। अन्य के खाते में भी 0-2 सीटें जा सकती हैं।

पुडुचेरी में पहली बार खिल सकता है कमल

पुडुचेरी में भाजपा पहली बार सत्ता में आती दिख रही है। 30 सदस्यों वाली विधानसभा में बीजेपी+ के खाते में 17 से 21 सीटें आ सकती हैं। कांग्रेस+ को 8 से 12 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है। अन्य के खाते में 1 से 3 सीट आ सकती हैं। पुडुचेरी में इसी हफ्ते कांग्रेस की नारायणसामी सरकार विश्वासमत हार गई थी और फिलहाल वहां राष्ट्रपति शासन है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।