मान ने ग्राम मंडला छन्ना में धुस्सी बांध की मरम्मत के कार्य का किया निरीक्षण

Bhagwant Mann
Aam Aadmi Party: माताओं-बहनों को देंगे 1100 रुपए: सीएम मान

मंडला चन्ना/जालंधर (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने राज्य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को राहत देने के अपने क्रम को जारी रखते हुए यहां धुस्सी बंद में आई दरार को भरने के चल रहे काम का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने नाव चलाई और सोमवार तड़के हुई दरार को भरने के लिए चल रहे काम का निरीक्षण करने के लिए जनता के बीच गए। उन्होंने कहा कि पानी के तेज बहाव के कारण कई खेतों में लगी धान की फसल बर्बाद हो गयी है। उन्होंने कहा कि किसानों के हितों की रक्षा के लिए राज्य सरकार जल्द ही किसानों को अधिक उपज देने वाली धान की किस्मों की मुफ्त पौध उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि उन्होंने पहले ही पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी, पनसीड, कृषि विभाग और अन्य को इन किस्मों के पौधे लगाने के निर्देश दिए थे। Punjab Flood News

मुख्यमंत्री (Bhagwant Mann) ने कहा कि ये पौधे अगले चार-पांच दिनों में तैयार हो जायेंगे, जिसके बाद किसानों को इसका नि:शुल्क वितरण किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पानी ने राज्य के लगभग 15 जिलों को प्रभावित किया है, जहां जरूरत पड़ने पर ये पौधे खाद्य उत्पादकों को वितरित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस गंभीर संकट की घड़ी में राज्य सरकार प्रदेश के किसानों के साथ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अजीब है कि जहां वह बाढ़ से प्रभावित पंजाबियों की सेवा करने में व्यस्त हैं, वहीं विपक्ष राजनीतिक हिसाब-किताब बराबर करने के लिए इस मौके का फायदा उठा रहा है। उन्होंने कहा कि यह विपक्ष के नेताओं के लिए शर्मनाक है कि वे संकट की इस घड़ी में कीचड़ उछाल कर इतना नीचे गिर रहे हैं। भगवंत मान ने कहा कि एक बार राज्य के लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित हो जाए तो वह निश्चित रूप से इन निष्क्रिय और खारिज किए गए राजनीतिक नेताओं को जवाब देंगे।

मुख्यमंत्री ने (Bhagwant Mann) कहा कि जो लोग दावा कर रहे हैं कि केंद्र ने 218 करोड़ रुपये जारी किए हैं, उन्हें याद रखना चाहिए कि यह फंड 10 जुलाई को जारी किया गया था। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस राशि को चार दिनों में खर्च नहीं कर सकती है। उन्होंने कहा कि भाजपा के राज्य प्रधान सुनील जाखड़ से सवाल किया कि जब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने ग्रामीण विकास फंड के पैसे का दुरुपयोग किया है तो वह चुप क्यों थे। उन्होंने कहा कि उस शासनकाल के दौरान सुनील जाखड़ प्रदेश कांग्रेस प्रधान थे, जिसके कारण केंद्र ने फंड रोक दिया था। भगवंत मान ने कहा कि विकास कार्य को खतरे में डालने के लिए राज्य भाजपा प्रमुख को पंजाब और उसके लोगों को जवाब देना होगा।

मुख्यमंत्री ने (Bhagwant Mann) कहा कि राज्य में पानी तेजी से घट रहा है, जिसके कारण राहत और बचाव कार्यों को गति मिल रही है। उन्होंने राहत कार्यों के लिए राज्य सरकार को बड़ी मदद देने के लिए बीएसएफ/ एनडीआरएफ की टीमों की भी सराहना की। राज्य प्रतिकूल परिस्थितियों में जनता की सेवा करने के लिए जाना जाता है और वह इस चुनौती से भी पार पा लेंगे।

यह भी पढ़ें:– New Tax Regime: 7.27 लाख तक टैक्स फ्री! सच ये है…