10 साल से डकैती मामले में फरार, सिरसा का मोस्ट वांटेड पंजाब से काबू

Sirsa News
10 साल से डकैती मामले में फरार, सिरसा का मोस्ट वांटेड पंजाब से काबू

हिसार पुलिस का 50 हजार तथा फतेहाबाद पुलिस का 5 हजार का इनामी

Most Wanted of Sirsa Arrested: सिरसा (सच कहूँ न्यूज)। जिला की स्पेशल स्टाफ, सिरसा पुलिस ने डकैती के मामले में पिछले करीब 10 साल से फरार चल रहे 5 हजार रुपए के इनामी मोस्ट वांटेड को महत्वपूर्ण सूचना के आधार पर पंजाब क्षेत्र से काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की है। इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी संजय पुत्र देवीलाल निवासी गांव फूलका, जिला सिरसा को अदालत में पेश कर चार दिन का रिमांड लिया गया है, तथा रिमांड अवधि के दौरान आरोपी की निशानदेही पर लूटी गई राशि बरामद की जाएगी तथा इस घटना से जुड़े अन्य पहलुओं के बारे में विस्तार से पूछताछ की जाएगी। Sirsa News

उन्होंने बताया कि स्पेशल स्टाफ के प्रभारी सब इंस्पेक्टर संदीप कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम ने महत्वपूर्ण सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए मोस्ट वांटेड संजय को काबू किया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि बीती 12 अक्टूबर 2014 को संजय तथा उसके साथियों ने नाथूसरी चौपटा थाना क्षेत्र के गांव गुसांईआना के पेट्रोल पंप पर सेल्समैन से पिस्टल के बल पर 33800 की लूटपाट व डकैती की वारदात को अंजाम दिया था। उन्होंने बताया कि इस घटना के बाकी आरोपियों को पुलिस पहले गिरफ्तार कर चुकी है।

मोस्ट वांटेड संजय करीब 10 साल से घटना के समय से ही फरार चल रहा था

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि मोस्ट वांटेड संजय करीब 10 साल से घटना के समय से ही फरार चल रहा था। उन्होंने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए जिला पुलिस की ओर से लगातार दबिश दी जा रही थी, परंतु आरोपी लगातार अपने ठिकाने बदल रहा था। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया मामले कि जांच के दौरान सामने आया है, कि काबू किया गया आरोपी संजय हिसार में लूटपाट तथा डकैती के तीन मामलों में वांटेड है, तथा उसके ऊपर 50 हजार का इनाम रखा हुआ है। Sirsa News

उन्होंने बताया कि फतेहाबाद पुलिस को भी आरोपी संजय लूटपाट, जानलेवा हमला तथा चोरी सहित चार मामलों में वांटेड है, तथा उसके ऊपर 5 हजार रुपए का इनाम रखा हुआ है। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान यह भी सामने आया है कि राजस्थान के रावतसर थाना में भी उसके खिलाफ लूटपाट का अभियोग वर्ष 2015 में दर्ज हुआ था, तथा उस मामले में उसके ऊपर 2 हजार का इनाम रखा गया था।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दीप्ति गर्ग ने बताया कि जांच के दौरान सामने आया है कि काबू किया गया आरोपी संजय लूटपाट करने वाले अंतर्राज्यीय ग्रुप का सदस्य है। उन्होंने बताया कि काबू किए गए आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस संबंध में फतेहाबाद, हिसार तथा राजस्थान की रावतसर पुलिस को भी सूचित कर दिया गया है। Sirsa News

पीहर आई विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here