तमिलनाडु : विधानसभा में हंगामा, बंद किए गए सभी दरवाजे

0
729

तमिलनाडु। उन्नतीस साल में पहली बार तमिलनाडु विधानसभा में शक्ति परीक्षण शुरू हो चुका है। इसमें शशिकला के बेहद करीबी ई.के. पलानीस्वामी की किस्मत का फैसला होगा। विधानसभा में विश्वासमत से ठीक पहले वहां के सभी दरवाजे बंद कर दिए गए। विश्वासमत से पहले वोटिंग शुरू हो चुकी है।

विधानसभा में हो सीक्रेट बैलेट- पन्नीरसेल्वम

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि ये बात सभी जानते हैं कि विधायकों को कोवाथुर रिजॉर्ट में रखा गया था। सबसे पहले लोगों की आवाज़ सुननी चाहिए उसके बाद विधानसभा के अंदर बहुमत साबित किया जाना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि मैं यह अपील करता हूं कि सीक्रेट बैलेट हो। ओ. पन्नीरसेल्वम धड़े के प्रेसिडियम चेयरमैन मधुसुदन ने विधानसभा में चीफ व्हिप के तौर पर एस सेम्मलई को नियुक्त किया। इसके साथ ही पन्नीरसेल्वम खेमे के एआईएडीएमके विधायकों ने नारे लगाकर विधानसभा में गुप्त विश्वासमत के दौरान गुप्त वोटिंग कराए जाने की मांग की। वोटिंग से ठीक पहले विधानसभा स्पीकर पी. धनपाल ने सीक्रेट बैलेट की मांग को ठुकरा दिया।

एआईडीएमके विधायक थोप्पु एनडी वेंकटचलम ने कहा कि पार्टी के सभी विधायकों के लिए व्हिप जारी कर दिया गया है और हम उसी हिसाब से वोट करेंगे। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम के समर्थक एम. पांडियाराजन ने कहा कि हमें ऐसा नहीं लगता है कि हम सिंगल डिजिट में है। हमें विश्वास है कि 135 लोग हमारे पक्ष में मतदान करेंगे। ओ पन्नीरसेल्वम खेमे ने विश्वास प्रस्ताव पर गुप्त मतपत्र के जरिये मतदान कराने की मांग की है।

विधानसभा के गणित को देखते हुए सरकार के बहुमत की परीक्षा में पास हो जाने की उम्मीद है। प्रमुख विपक्षी दल द्रमुक ने विश्वास प्रस्ताव के विरोध में वोट डालने का फैसला किया है। शुक्रवार सुबह पन्नीरसेल्वम के आवास पर लंबे विचार-विमर्श के बाद अन्नाद्रमुक के कुछ नेताओं ने इसके लिए सचिवालय जाकर विधानसभा अध्यक्ष से भेंट की। तो वहीं, कांग्रेस ने कहा कि वह हाई कमान की सलाह के आधार पर रुख तय करेगी।