पीएम ने ऑक्सीजन उत्पादन और उपलब्धता की स्थिति की समीक्षा की

0
182
Oxygen Production

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। कोरोना महामारी की तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश भर में लगाये जा रहे ऑक्सीजन संयंत्रों को लगाने के कार्य की समीक्षा की और इन्हें जल्द से जल्द चालू करने का निर्देश दिया। मोदी ने शुक्रवार को एक वर्चुअल बैठक में देश भर में ऑक्सीजन उत्पादन और उसकी उपलब्धता की समीक्षा की। बैठक में अधिकारियों ने ऑक्सीजन संयंत्र लगाये जाने के कार्य की प्रगति के बारे में जानकारी दी।

यह बताया गया कि अभी प्रधानमंत्री केयर्स फंड, मंत्रालयों और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों से मिली राशि से 1500 से अधिक ऑक्सीजन संयंत्र लगाये जा रहे हैं। ये संयंत्र सभी राज्यों और जिलों में लगाये जा रहे हैं और इनके चालू होने के बाद देश भर में चार लाख से अधिक ऑक्सीजन बिस्तरों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा सकेगी। प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे राज्य सरकारों के साथ मिल कर काम करें और इन संयंत्रों को जल्द से जल्द चालू किया जाये। अधिकारियों ने कहा कि वे राज्य सरकारों के साथ निरंतर संपर्क बनाये हुए हैं जिससे कि ऑक्सीजन संयंत्रों का काम जल्द पूरा हो सके।

देश भर में करीब 8000 लोगों को प्रशिक्षण देने का लक्ष्य रखा गया

मोदी ने अधिकारियों से यह सुनिश्चित करने को कहा कि अस्पतालों के स्टाफ को ऑक्सीजन संयंत्रों के संचालन और रख रखाव का समुचित प्रशिक्षण दिया जाये। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले में प्रशिक्षित कर्मचारी का उपलब्ध रहना जरूरी है। अधिकारियों ने बताया कि विशेषज्ञों ने एक प्रशिक्षण माड्यूल तैयार किया है जिससे देश भर में करीब 8000 लोगों को प्रशिक्षण देने का लक्ष्य रखा गया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ऑक्सीजन संयंत्रों के कामकाज पर नजर रखने के लिए राष्ट्रीय तथा स्थानीय स्तर पर अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। अधिकारियों ने बताया कि इसके लिए एक पायलट परियोजना चलायी जा रही है। बैठक में प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, कैबिनेट सचिव, स्वास्थ्य सचिव और कई अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।