केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
349

पुणे/मुंबई (एजेंसी)। केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को रत्नागिरी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मुम्बई पुलिस के हवाले से यह जानकारी दी है। इससे पहले बॉम्बे हाईकोर्ट में भी उन्हें झटका लगा, जब कोर्ट ने एफआईआर खारिज करने की मांग वाली राणे की याचिका पर अर्जेंट सुनवाई से इनकार कर दिया। भाजपा नेता प्रमोद जठार ने कहा है कि रत्नागिरी के एसपी नारायण राणे को बिना किसी गिरफ्तारी वारंट के गिरफ्तार करने संगमेश्वर पहुंचे। बीजेपी नेता के मुताबिक, रत्नागिरी के एसपी का कहना था कि उन पर गिरफ्तारी का जबरदस्त दबाव है और उन्हें 5 मिनट में राणे को गिरफ्तार करने के लिए कहा गया है। बॉम्बे हाईकोर्ट ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की याचिका पर तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया है। याचिका अधिवक्ता अनिकेत निकम ने दायर किया है।

राउत ने कहा कि राणे शिवसेना निशाना बना रहे है

शिवसेना ने राणे की टिप्पणी पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है और उसके कार्यकर्ताओं ने मुंबई और अन्य स्थानों पर ‘कोम्बडी चोर (मुर्गा चोर)’ के पोस्टर चिपका दिए है। यह राणे के संबंध में है जब वह चैम्बूर में पांच दशक पहले एक पोल्ट्री दुकान करते थे। शिवसेना के रत्नागिरी-सिंधुदुर्ग से सांसद विनायक राउत ने कहा कि राणे अपना मानसिक संतुलन खो बैठे है और प्रधानमंत्री को उनके इस बयान के लिए मंत्रिमंडल से बाहर का रास्ता दिखा देना चाहिए। राउत ने कहा कि राणे शिवसेना और उनके नेताओं को निशाना बना रहे है।

नड्डा ने की राणे की गिरफ्तारी की निंदा

 भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा ) के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की महाराष्ट्र में हुई गिरफ्तारी की निंदा की है। नड्डा ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा “महाराष्ट्र सरकार द्वारा केंद्रीय मंत्री राणे जी की गिरफ़्तारी संवैधानिक मूल्यों का हनन है। इस तरह की कार्यवाही से ना तो हम डरेंगे, ना दबेंगे।” उन्होंने कहा “भाजपा को जन-आशीर्वाद यात्रा में मिल रहे अपार समर्थन से ये लोग परेशान है। हम लोकतांत्रिक ढंग से लड़ते रहेंगे, यात्रा जारी रहेगी।” उल्लेखनीय है कि राणे के महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर आपत्तिजनक बयान के बाद उनके खिलाफ महाराष्ट्र में प्राथमिकी दर्ज की गयी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। राणे ने बॉम्बे हाई कोर्ट में जमानत के लिए याचिका दायर की है। दरअसल राणे महाराष्ट्र के अलग-अलग हिस्सों में जन आशीर्वाद यात्रा निकाल रहे हैं। इस दौरान पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था, ‘ठाकरे कैसे मुख्यमंत्री हैं जिन्हें यह पता नहीं कि देश को स्वतंत्र हुए कितने वर्ष हुए हैं। मैं वहां होता तो उन्हें एक थप्पड़ लगा देता।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।