पुलिस ने 15 घंटे के अंदर किया मर्डर व लूट मामले का खुलासा, महिला डाक्टर की हत्या

kuk
  • घर मे घुसकर हथियार के बल पर लूट व हत्या करने के सभी आरोपी गिरफ्तार
  • सोमवार रात्रि सैक्टर-13 कुरुक्षेत्र में की थी महिला डाक्टर की हत्या
सच कहूं, देवीलाल बारना 
कुरुक्षेत्र। 
जिला पुलिस कुरुक्षेत्र ने घर में घुसकर हथियार के बल पर लूट व हत्या करने के सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है, पत्रकारों को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र भोरिया ने बताया कि 9 जनवरी के देर रात्रि को थाना शहर थानेसर में सेक्टर-13 निवासी डॉ अतुल अरोड़ा ने अपनी शिकायत में बताया की उनकी कोठी नंबर 105 में ग्राउंड फ्लोर पर उनका अतुल क्लीनिक के नाम से अस्पताल है।  और इस अस्पताल के ऊपरी मंजिल पर वह परिवार सहित रहते हैं उनके साथ उनके माता-पिता व उनकी धर्मपत्नी वनीता अरोड़ा रह रहे हैं 9 जनवरी को प्रतिदिन की तरह वह लगभग 9:20 पर रात को अपने अस्पताल से मकान में ऊपर अपने माता-पिता के कमरे में गया तो उसी समय उसकी पत्नी वनिता अरोड़ा की चीख सुनाई पड़ी।
वह कमरे से बाहर निकला तो देखा कि 2 लड़कों ने उसके सिर पर रख दी और उसे धकेलते हुए ड्राइंग रूम में ले गए और पिस्तौल तानकर उसे बिठा दिया उसके बाद पैसे व जेवरात के बारे में पूछने लगे तो उसने अपनी जेब से लगभग एक लाख रुपए निकाल कर दे दिए उसके बाद उसे अपनी पत्नी की कोई आवाज सुनाई नहीं दी लगभग 15 मिनट तक नौजवान लड़के उसे मारते रहे और पैसों के बारे में उनसे पूछते रहे उन्होंने मंदिर और मंदिर के ऊपर अलमारी में रखे गहनों के बारे में भी पूछा उसने किसी तरह अपने आप को बचाकर अपने माता-पिता के कमरे में घुसकर अंदर से कुंडी लगा ली इसके बाद उसके घर के फोन में वह इंटरकॉम की तारे तोड़ दी गई ।
जिस पर वह पिछले दरवाजे से निकलकर साथ लगते स्कूल में छलांग लगाकर कूद पड़ा और अपने पड़ोसियों को इस वारदात से अवगत करवाया वही पड़ोसियों ने पुलिस को फोन किया पुलिस के पहुंचने पर जब ऊपर जाकर देखा तो उसकी पत्नी मृत अवस्था में पड़ी थी और उसके गहने घर के सारे गहने गायब थे उसके माता के पहने हुए सोने के गहने आरोपी लेकर फरार हो गए पुलिस ने डॉ अतुल अरोड़ा के बयान पर मामला दर्ज कर जांच का काम सब इंस्पेक्टर सतीश कुमार को सौंप दिया मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक करण गोयल की देखरेख में CIA- 2 के प्रभारी तथा थाना प्रभारी शहर थानेसर कि एक एसआईटी टीम गठित करके जांच एसआईटी को सौंप दी पुलिस अधीक्षक ने जानकारी दी 10 जनवरी को लगभग 3:45 बजे एसआईटी को गुप्त सूचना मिली कि इस वारदात के आरोपी की पिहोवा की ओर से कुरुक्षेत्र आ रहे हैं।
पुलिस ने नाकाबंदी कर दी आरोपी पुलिस को देख कर पिहोवा से ढांड रोड की ओर मुड़ गए पुलिस ने पीछा किया तो उन्होंने पुलिस पर फायरिंग की जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की जिससे एक आरोपी घायल हो गया और पांचों आरोपियों को पुलिस ने दबोच लिया इनमें से चार आरोपी जिला कैथल के वह एक आरोपी अलीगढ़ उत्तर प्रदेश का रहने वाला है पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है आरोपी घायल आरोपी अस्पताल में उपचाराधीन है आरोपियों के कब्जे से चार देसी कट्टा 315 बोर और एक देसी पिस्टल पॉइंट 32 बोर बरामद की गई है उन्होंने बताया कि आरोपियों को कल अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड लिया जाएगा एक प्रश्न के उत्तर में पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपियों ने कहने गैस वैज्ञानिक जिस स्थान पर नकदी व ज्वैलरी छुपाने का स्थान बता दिया है पुलिस उन्हें पुलिस रिमांड के बाद बरामद करेगी । पुलिस अधीक्षक ने फिलहाल आरोपियों की पहचान बताने से इंकार किया है।
उल्लेखनीय है कि इस घटना के कारण शहर में दहशत का माहौल है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने चेतावनी दी थी कि यदि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार नहीं किया गया तो वह अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे और सभी प्राइवेट अस्पतालों की सेवाएं बंद कर दी जाएंगी पुलिस ने 15 घंटे के भीतर ही इस वारदात की गुत्थी को सुलझा दिया।
अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here