महाराष्ट्र में बदल सकता है सियासी समीकरण! अमित शाह व शरद पवार की मुलाकात से राजनीतिक हलचल तेज

मुंबई। एंटीलिया केस से शुरू हुए विवाद की वजह से महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर आरोप लगने के बाद राजनीतिक उठापटक तेज हो गया है। अब उद्धव ठाकरे सरकार के लिए हर दिन चुनौतियां बढ़ती जा रही है। इस बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार और पार्टी के कद्दावर नेता प्रफुल्ल पटेल ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से अहमदाबाद में मुलाकात की है। होली के ठीक एक दिन पहले हुई इस मुलाकात के बाद महाराष्ट्र में किसी बड़े सियासी उलटफेर की संभावनाएं तेज हो गई है। राजनीतिक विशलेषकों का मानना है कि आने वाले कुछ समय में महाराष्ट्र में बहुत बड़ा सियासी फेरबदल हो सकता है। (Mumbai News)

एंटीलिया केस सामने आने के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में भूचाल आ गया है। वहीं महाराष्ट्र की शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन सरकार को लेकर अटकलें तेज हो गई है। भाजपा अनिल देशमुख के इस्तीफे की मांग लगातार कर रही है तो वहीं, महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की मांग भी की जा रही है। ऐसे में उद्धव सरकार बेकफुट पर नजर आ रही है। इस बीच अमित शाह और शरद पवार के बीच मुलाकात ने कई सियासी सवालों को जन्म दे दिया है।

बता दें कि उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियो बरामद होने के बाद से महाराष्ट्र की सियासत में भूचाल आ गया है। जांच में कई अहम बड़े खुलासे हुए हैं। इन खुलासों में सबसे गंभीर है गृह मंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये हर महीने उगाही करने के आदेश देने का आरोप। अनिल देशमुख पर आरोप है कि एंटीलिया केस में मुख्य साजिशकर्ता के तौर पर सामने आए निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाजे को उन्होंने हर महीने 100 करोड़ रुपये उगाही करने का लक्ष्य दिया था। सबसे बड़ी बात कि यह आरोप मुंबई के पूर्व कमीश्नर परमबीर सिंह ने लगाए हैं। फिलहाल इस पूरे मामले की जांच एनआईए कर रही है। (Mumbai News)