अव्यवस्थित तरीके से गाडिय़ां खड़ी करने से हादसे का अंदेशा

Hanumangarh News

बाइपास मार्ग पर संचालित शिक्षण संस्थानों के अंदर पार्किंग व्यवस्था का सुझाव

हनुमानगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। जंक्शन में बाइपास मार्ग पर संचालित शिक्षण संस्थानों के बाहर छुट्टी के समय अव्यवस्थित तरीके से वाहन खड़े करने से हादसे का अंदेशा रहता है। शहर के वरिष्ठ अधिवक्ता अलंकार सिंह ने इस समस्या के समाधान के लिए बाइपास मार्ग पर संचालित सभी शिक्षण संस्थानों के अंदर पार्किंग व्यवस्था का सुझाव प्रशासन को दिया है। वरिष्ठ अधिवक्ता अलंकार सिंह ने बताया कि हनुमानगढ़ में बाइपास का निर्माण इसलिए किया गया था ताकि शहर में भारी वाहनों का प्रवेश न हो। Hanumangarh News

भारी वाहन शहर से बाहर से होते हुए अपने गन्तव्य स्थान को निकल सकें। लेकिन प्रशासन और नगर परिषद की ओर से बाइपास के दोनों तरफ सार्वजनिक स्थानों पर शिक्षण व धार्मिक संस्थाएं, वृद्धाश्रम आदि खोल दिए गए। सरकारी पाठशाला भी खोल दी। चुनाव के समय वहां काउंटिंग स्थल सुनिश्चित कर दिए गए। इस कारण बाइपास पर बेरिकेड्स लगाए जाते हैं। स्कूल-कॉलेज आने-जाने वाले नाबालिग बच्चे दुपहिया वाहन लेकर शिक्षण संस्थान आते हैं। उन्हें वाहन नहीं चलाना आता। बाइपास पर भारी वाहनों का आवागमन रहता है। इससे हर समय बड़ी दुर्घटना होने की आशंका रहती है। Hanumangarh News

इसके अलावा जब किसी भी स्कूल-कॉलेज की छुट्टी होती है, उस समय अभिभावकों की गाडिय़ां भी शिक्षण संस्थाओं के सामने खड़ी रहती हैं। इतनी अधिक भीड़ हो जाती है कि भारी वाहनों के आवागमन में भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस हालत में भी किसी भी समय बड़ा हादसा होने का डर रहता है। उन्होंने सुझाव दिया कि इन संस्थाओं को बाइपास पर जगह तो आवंटित की जा चुकी है। लेकिन अभी भी इन संस्थाओं का सुधार इस प्रकार किया जा सकता है कि किसी भी संस्थान का मुख्य द्वार बाइपास की तरफ न खुले। बाइपास की जगह साथ की लिंक रोड पर मुख्य द्वार हो। अगर लिंक रोड नहीं है तो पार्किंग की व्यवस्था संस्थान के अन्दर हो। अभिभावकों के वाहनों को भी संस्थान के अन्दर खड़े करने की सुविधा हो। भविष्य में किसी संस्थान को जगह आवंटित करते समय पार्किंग की जगह सुनिश्चित की जाए। अन्यथा जगह आवंटित न की जाए। Hanumangarh News

Voter ID Card without Name: क्या ऐसा भी हो सकता है? बिना नाम वाला पहचान पत्र सही पते पर पहुंचा!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here