पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप: रोल नंबर रूकने से मानसिक परेशान हो रहे विद्यार्थी

0
169
student

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग पंजाब से नाराज, सरकार से मांगा तुरंत जवाब

सच कहूँ/अश्वनी चावला चंडीगढ़। पंजाब के प्राईवेट कॉलेजों ने पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप के तहत शिक्षा प्राप्त कर रहे दो लाख विद्यार्थियों के रोल नंबर रोकने के मामले में राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग पंजाब सरकार से नाराज हो गया है, जिस कारण राष्ट्रीय आयोग ने पंजाब सरकार को एक्शन रिपोर्ट पेश करन के लिए कहा है। पंजाब सरकार ने एससी पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप स्कीम के अंतर्गत, पंजाब के प्राईवेट कॉलेजों के बनते 1549.06 करोड़ रुपए जारी नहीं किये जाने के कारण ज्वार्इंट एक्शन समिति ने पंजाब के दो लाख के करीब दलित विद्यार्थियों के रोल नंबर रोक लिए हैं।

पैसा नहीं मिलने के कारण रूके दो लाख दलित विद्यार्थियों के रोल नंबर

इस मामले में पंजाब के दो लाख विद्यार्थियों का नुक्सान सीधे तौर पर हो रहा है, क्योंकि उन्हें रोल नंबर नहीं मिलने के कारण जहां उन्हें परिक्षाओं का डर सता रहा है वहीं मानसिक रूप से गुजर रहे हैं। राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला ने इस संबंधी कहा कि पंजाब सरकार ने प्राईवेट कॉलेजों की पोस्ट मैट्रिक स्कालरशिप के अंतर्गत बनती राशि न जारी किए जाने के कारण पंजाब के लाखों दलित विद्यार्थियों का भविष्य अंधकार में जा रहा है। पंजाब सरकार की गलती की कीमत अनुसूचित जाति वर्ग के विद्यार्थी चुका रहे हैं। यह पंजाब सरकार का एक व्यवहार उचित नहीं है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।