डिकॉक ने टेस्ट क्रिकेट से अचानक लिया संन्यास

जोहानसबर्ग (एजेंसी)। अनुभवी विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक ने अपने परिवार के साथ अधिक समय बिताने के लिए अचानक टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। डिकॉक पितृत्व अवकाश के कारण दूसरे और तीसरे टेस्ट में नहीं खेलने वाले थे, लेकिन अब उन्होंने पूरी तरह से क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप से विदाई लेने का फैसला कर लिया है। वह दक्षिण अफ्रीका के लिए सफेद गेंद क्रिकेट में मौजूद रहेंगे।

डिकॉक ने क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) की ओर से जारी एक बयान में कहा, “यह ऐसा फैसला नहीं है जिस पर मैं आसानी पहुंच गया हूं। मैंने यह सोचने में बहुत समय लिया है कि मेरा भविष्य कैसा दिखता है और अब मेरे जीवन में क्या प्राथमिकता होनी चाहिए। साशा और मैं इस दुनिया में अपने पहले बच्चे का स्वागत करने वाले हैं और अब हम अपने परिवार को उससे आगे बढ़ाना चाहते हैं। मेरा परिवार मेरे लिए सब कुछ है और मैं चाहता हूं कि हमारे पास हमारे जीवन के इस नए और रोमांचक अध्याय के दौरान उनके साथ रहने के लिए समय और जगह हो।”

यह मेरे करियर का अंत नहीं

उन्होंने कहा,”मुझे टेस्ट क्रिकेट पसंद है और मुझे अपने देश का प्रतिनिधित्व करना पसंद है। मैंने उतार-चढ़ाव, उत्सव और यहां तक कि निराशाओं का भी आनंद लिया है, लेकिन अब मुझे कुछ ऐसा मिला है जो मुझे और भी अधिक पसंद है।जिदगी में आप समय के सिवाए कुछ भी खरीद सकते हैं और इस समय, उनके लिए सही करने का समय है जो मेरी जिदगी में सबसे ज्यादा मायने रखते हैं। मैं इस मौके पर उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं जो शुरू से ही मेरी टेस्ट क्रिकेट यात्रा का हिस्सा रहे हैं। मेरे कोचों, टीम के साथियों, विभिन्न प्रबंधन टीमों और मेरे परिवार और दोस्तों के लिए।

अगर मेरे पास आप लोगों का साथ नहीं होता तो मैं खुद को साबित नहीं कर सकता था।” डी कॉक ने कहा,”यह मेरे करियर का अंत नहीं है। मैं सफेद गेंद क्रिकेट में खेलना जारी रखूंगा और अपने देश के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार रहूंगा। मैं अपनी टीम के सभी साथियों को इस सीरीज के आने वाले दो मैचों के लिए शुभकामनाएं देता हूं। आप सभी से अब वनडे और टी20 में मुलाकात होगी।”

श्रीलंका को घर में 2-0 से हराया

29 वर्षीय डिकॉक ने 2021 की शुरूआत साउथ अफ्रीका के अस्थायी टेस्ट कप्तान के रूप में की थी और इस प्रारूप से संन्यास लेकर इसे समाप्त किया। उन्होंने श्रीलंका और पाकिस्तान के खिलाफ चार टेस्ट मैचों में 50% जीत के रिकॉर्ड के साथ दक्षिण अफ्रीका का नेतृत्व किया। दक्षिण अफ्रीका ने श्रीलंका को घर में 2-0 से हराया लेकिन पाकिस्तान से उसी अंतर से हार गया। डिकॉक ने कोविड-19 महामारी में बायो बबल जीवन के प्रतिबंधों पर चिंता व्यक्त की थी और उन्हें दक्षिण अफ्रीका की वनडे टीम में श्रीलंका और नीदरलैंड के खिलाफ आराम दिया गया था।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here