GAS CYLINDER: खुशखबरी, एलपीजी सिलेंडर पर 1 अप्रैल से 300 रु. की छूट, करोड़ों लोगों को होगा लाभ

GAS CYLINDER
GAS CYLINDER: खुशखबरी, एलपीजी सिलेंडर पर 1 अप्रैल से 300 रु. की छूट, करोड़ों लोगों को होगा लाभ

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। GAS CYLINDER: ये खबर करोड़ों लोगों के लिए है। अप्रैल के महीने से एये फाइनेंशियल ईयर की शुरूआत होने जा रही है। 1 अप्रैल को कई नियमों में बदलाव होने वाला हैं। ऐसा ही नियम प्रधानमंत्री उज्जवला योजना से जुड़ा हुआ है। गौरतलब हैं कि उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को वित्त वर्ष 2024-25 के दौरान एलपीजी सिलेंडर पर 300 रुपये की छूट मिलती रहेगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सब्सिडी की ये छूट 31 मार्च 2024 तक के लिए थी लेकिन हाल ही में सरकार ने इस राहत को 31 मार्च 2025 तक बढ़ा दिया है। यह नए वित्त वर्ष के पहले दिन यानी एक अप्रैल 2024 से ही लागू हो जाएगा। GAS CYLINDER

12 सिलेंडर पर ही मिलेगी छूट

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लाभार्थी वर्ग को 1 वर्ष में 12 रिफिल प्रोवाइड की जाती है। इसके अनुसार, 300 रुपये प्रति 14.2 किलोग्राम सिलेंडर की सब्सिडी दी जाती है। सब्सिडी सीधे पात्र लाभार्थियों के बैंक खातों में जमा की जाती है। इस तरह, सामान्य ग्राहकों के मुकाबले उज्जवला लाभार्थियों को सिलेंडर 300 रुपये सस्ता मिलता है। गौरतलब हैं कि वित्त वर्ष 2024-25 के लिए सरकार का कुल खर्च 12,000 करोड़ रुपये होगा।

विदेशी मुद्रा भंडार 14 करोड़ डॉलर बढ़कर 642.6 अरब डॉलर पर

स्वर्ण में बढोतरी होने से 22 मार्च को समाप्त सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 14 करोड़ डॉलर बढ़कर लगातार पांचवें सप्ताह चढ़ता हुआ 642.6 अरब डॉलर हो गया। इसी तरह इसके पिछले सप्ताह देश का विदेशी मुद्रा भंडार 6.4 अरब डॉलर बढ़कर लगातार चौथे सप्ताह चढ़ता हुआ 642.5 अरब डॉलर पर रहा था। रिजर्व बैंक की ओर से शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़े के अनुसार, 22 मार्च को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार के सबसे बड़े घटक विदेशी मुद्रा परिसंपत्ति 12.3 करोड़ डॉलर की गिरावट के साथ 568.3 अरब डॉलर रह गया।

वहीं, इस अवधि में स्वर्ण भंडार 34.7 करोड़ डॉलर घटकर 51.5 अरब डॉलर पर पहुंच गया। आलोच्य सप्ताह विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) में 5.7 करोड़ डॉलर की कमी हुई और यह घटकर 18.2 अरब डॉलर रह गया। इसी तरह इस अवधि में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के पास आरक्षित निधि 2.7 करोड़ डॉलर कम होकर 4.7 अरब डॉलर पर आ गया।

यह भी पढ़ें:– Pakistan Cricket: बाबर के कप्तान के तौर पर वापसी से बढ़ सकती हैं पाकिस्तान की मुश्किलें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here