संगरूर का मौजूदा सिविल अस्पताल 220 बिस्तरों से 360 बिस्तरों तक होगा अपग्रेड : भगवंत मान

  • लाभपात्रियों को सामाजिक सुरक्षा के लाभ घरों में मुहैया करवाने का किया ऐलान

  • 25 एकड़ में बनने वाले इस इंस्टीच्यूट पर तकरीबन 345 करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान

संगरूर। (सच कहूँ/गुरप्रीत सिंह) पंजाब के सीएम भगवंत मान ने शुक्रवार को यहां मस्तूआना साहिब में संत अतर सिंह स्टेट इंस्टीच्यूट ऑफ मैडीकल सांईस की नींव पत्थर रखा। 25 एकड़ में बनने वाले इस इंस्टीच्यूट पर तकरीबन 345 करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान है। लोगों को अच्छी मेडीकल सुविधाएं मुहैया करवाने की अपनी सरकार की दृढ़ वचनबद्धता प्रकट करते सीएम ने कहा कि यह संस्था इस दिशा में बढ़ाया गया एक कदम है। उन्होंने कहा कि यह महान धार्मिक संत अतर सिंह, जिन्होेंने लोगों में सद्भावना, शांति और भाईचारे का संदेश दिया, को सच्ची श्रद्धांजलि है।

भगवंत मान ने संत अतर सिंह द्वारा शिक्षा की रोशनी फैलाने में दिए गए बड़े योगदान को भी याद किया। सीएम ने उम्मीद जताई कि इस मैडीकल कॉलेज के साथ संगरूर इस समूह क्षेत्र में मैडीकल शिक्षा के गढ़ के तौर पर उभरेगा। भगवंत मान ने कहा कि इस प्रॉजैक्ट में अकादमिक ब्लॉक के अलावा संगरूर के मौजूदा सिविल अस्पताल को 220 बिस्तरों से अपग्रेड कर 360 बिस्तरों वाला करने, नर्सिंग स्कूल का निर्माण, सीनियर/जूनियर लड़कियों और लड़कों के अलग-अलग होस्टल, विद्यार्थियों के लिए खेल ट्रैक, सहायक गतीविधियों के लिए ओपन एयर थिएटर, स्टाफ के लिए रिहायश और शॉपिंग कॉम्प्लैक्स जैसी सुविधाएं भी शमिल होंगी।

इसी तरह स्टेट इंस्टीच्यूट और मैडीकल सांईस को आते राष्ट्रीय शाहराह नम्बर 07 को भी 5.50 मीटर से 7.00 मीटर तक चौड़ा करना और इंस्टीच्यूट के सामने वाली सड़क को चहुंमार्गीय करना भी इस प्रॉजैक्ट का हिस्सा है। इस मौके कैबिनेट मंत्री अमन अरोड़ा, हरपाल सिंह चीमा, गुरमीत सिंह मीत हेयर और लाल चन्द, विधायकों में नरिन्दर कौर, बरिन्दर गोयल, कुलवंत सिंह पंडोरी, डॉ. बलबीर सिंह, लाभ सिंह उग्गोके सहित अन्य उपस्थित थे।

मालवा क्षेत्र में मैडीकल शिक्षा मुहैया करवाने में अहम भूमिका निभाएगा मैडीकल इंस्टीच्यूट: मान

सीएम ने उम्मीद जताई कि यह मैडीकल इंस्टीच्यूट पंजाब खास तौर पर मालवा क्षेत्र में सेहत सेवाओं और मैडीकल शिक्षा मुहैया करवाने के लिए अहम भूमिका निभाएगा। उन्होंने अधिकारियों को आदेश दिए कि इस प्रॉजैक्ट का काम समयबद्ध तरीके से मुकंमल किया जाए। उन्होंने कहा कि इस मैडीकल कॉलेज का काम 31 मार्च 2023 तक मुकम्मल कर लिया जाएगा और अगला अकादमिक सैशन एक अप्रैल से शुरू होगा। मान ने अधिकारियों को यह भी यकीनी बनाने के लिए कहा कि इस अति-आधुनिक मैडीकल इंस्टीच्यूट के निर्माण दौरान सभी मापदंड पूरे किए जाएं।

सीएम ने कहा कि राज्य सरकार लोगों को समाजिक सुरक्षा मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने बताया कि पैंशनों की अदायगी लाभपात्रियों को सीधी उनके घरों में होगी। उन्होंने कहा कि इसी तरह आटा-दाल भी लोगों को उनके घरों में भी मुहैया करवाया जाएगा। सीएम ने कहा कि राज्य सरकार ने लोगों की भलाइग् के लिए कई लोकपक्षीय विकास को समर्थन देने वाली योजनाएं तैयार कर रखी हैं। उन्होंने कहा कि इस उद्देश्य के लिए फंडों की कोई कमी नहीं है और इसके साथ ही राज्य के समूह विकास को गति मिलेगी। भगवंत मान ने लोगों को भरोसा दिलाया कि राज्य की तरक्की और लोगों की खुशहाली के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here