कभी इंस्टाग्राम तो कभी यूट्यूब पर पूज्य गुरु जी के दर्शनों से डेरा श्रद्धालु हो रहे निहाल

 पूज्य गुरु जी के एक-एक अनमोल वचनों को सुन कर अमल करने में जुटे श्रद्धालु

सच कहूँ/सुनील वर्मा
सरसा। मेरी अंगना में महकी है बहार, गुरु जी घर आए जी…। शब्द की यह पंक्तियां डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों पर खूब जच रही है। क्योंकि जब से पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां उत्तर प्रदेश के बरनावा स्थित आश्रम में पधारे है, तब श्रद्धालुओं की खुशियों का कोई ठिकाना नहीं है। कभी इंस्टाग्राम तो कभी यूट्यूब चैनल पर दिन में दो-तीन बार पूज्य गुरु जी के दर्शन करके व अनमोल वचनों को श्रवण करके साध-संगत निहाल हो रही है। वहीं पूज्य गुरु जी के दर्शनों ने बेजान शरीरों में जान डाल दी है। पूज्य गुरु जी के लाइव आने का साध-संगत में ऐसा जुनून सवार है कि वह निर्धारित समय से पहले ही अपने सभी काम-धंधे निपटा के मोबाइल के समक्ष बैठकर पूज्य गुरु जी के लाइव आने का इंतजार करते हंै और लाइव आने के पश्चात पूज्य गुरु जी के एक-एक अनमोल वचनों को बच्चों से लेकर बुजुर्गों, नौजवानों व महिलाओं सहित सभी बड़े ध्यानपूर्वक सुनते हैं।

साथ ही पूज्य गुरु जी देश को खोखला कर रही सामाजिक बुराई नशे से दूर रहने के लिए भी सभी प्रेरित कर रहे हंै। इसके अलावा सभी पॉजिटिव सोच रखने के लिए संदेश दे रहे हैं। अब तो पूज्य गुरु जी ने हर रोज शाम 9 बजे यूट्यूब चैनल पर लाइव आने की बात कह दी है जिसके पश्चात डेरा अनुयायियों में भारी उत्साह और जश्र माहौल देखने को मिल रहा है। लाइव दर्शन करके साध-संगत क्या प्रतिक्रियाएं दे रही है वह आप खुद पढ़िये।

साल बाद पूज्य गुरु जी ने लाइव आकर हमें दर्शन दिए और अपना बहुत सारा आशीर्वाद दे रहे हैं। इसके लिए हम पूज्य गुरु जी के कोटि-कोटि धन्यवादी है। साथ में पूज्य गुरु जी के पावन वचनों को सुनकर मानवता भलाई के कार्य करने का जोश ओर बढ़ गया। लोग कहते थे तुम्हारे गुरु जी बूढ़े हो गए, उनकी दाढ़ी सफेद हो गई। लेकिन हमें तो हमारे गुरु जी पहले से भी जवान लग रहे है। जब पूज्य पिता जी को गुरुगद्दी पर विराजमान किया था। तो उनकी आयु 23 साल थी और आज भी 23 के ही लग रहे है। हमें दर्शनों से निहाल करने के लिए पूज्य गुरु जी का तहदिल से मैं और मेरा परिवार शुक्रिया करता है।

बृजेश इन्सां,
सुखसागर कॉलोनी सरसा।

पूज्य गुरु जी के आगमन व लाइव आकर दर्शन देने की उनको जो खुशी है, उसे वर्णन नहीं किया जा सकता। लंबे समय से पूरी साध-संगत की इच्छा थी कि पूज्य गुरु जी स्वयं हमे मानवता भलाई कार्यों के लिए प्रेरित करें ताकि इन 139 मानवता भलाई कार्यो को करने में साध-संगत को जोश दोगुना हो सकें। अब पूज्य गुरु जी हर रोज लाइव आकर हमें मानवता भलाई कार्यो के लिए प्रेरित कर रहे है। जोकि हमे बहुत ही अच्छा लग रहा है। हालांकि पहले भी पूज्य गुरु जी रूहानी पत्रों के माध्यम से हमें प्रेरित करते रहते थे। अब लाइव की तो बात ही कुछ अलग है।

प्रवीण इन्सां, सुजान बहन सरसा।

पूज्य गुरु जी हमेशा ही सृष्टि की भलाई के लिए हर कार्य करते है। कल भी पूज्य गुरु जी जब लाइव आए तो पूरे संसार और देश की शांति के लिए प्रार्थना की। गुरु जी के दर्शन करके मेरी रूह गदगद हो गई। अब तो सारा दिन फोन पर ही नजर रहती है कि पता नहीं कब गुरु जी लाइव आए जाए और हमें खुशियों से मालामाल करें। इतना तो हम सेवा, सिमरन करते नहीं जितनी खुशियां गुरु जी हमें दे देते है। हम गुरु जी का जितना धन्यवाद करें उतना ही कम है। गुरु जी से यही अरदास है मुझे व मेरे परिवार को अपने चरणों से लगाए रखे व सेवा, सिमरन व परमार्थ करवाते रहे।

यशुदीप इन्सां, प्रीत नगर सरसा।

लंबे अरसे से पूज्य गुरु जी के दर्शनों की दिल्ली तड़फ थी। जिसे पूज्य गुरु जी ने बरनावा आश्रम में आकर और लाइव दर्शन देकर पूरा कर दिया है। अब तो पूज्य गुरु जी ने दर्शनों से मालामाल कर रखा है। लाइव के दौरान पूज्य गुरु जी ने सभी लोगों के वहम निकाल दिए है और वचन किए कि हम थे, हम है और हम ही रहेंगे। पूज्य गुरु जी के आगमन की हम आश्रम में तन की सेवा कर व घरों में दिये जगाकर व मिठाईयां बांटकर खुशियां मना रहे है।

श्रीराम इन्सां कुस्सर, 15 मैंबर रामपुरथेड़ी-चक्कां।

पूज्य गुरु जी के आगमन से साध-संगत खुशियों से मालामाल है और पूज्य गुरु जी के आने से समाज में चरम सीमा पर फैली बुराईयों में कमी आएगी। क्योंकि युवा पीढ़ी राम-नाम से जुड़कर अच्छे कार्यों में लगेगी। इससे हमारा देश विकास और तरकी की राह पर अग्रसर होगा। हम सरकार से यहीं मांग करते है पूज्य गुरु जी बिल्कुल निर्दोश है और उन्हें हमेशा के लिए बाहर किया जाए। ताकि समाज में फैल रही अशांति व कुरीतियों को रोका जा सके।

संदीप चुघ इन्सां, 15 मैंबर सरसा।

पूज्य गुरु जी साध-संगत की पल-पल संभाल करते आ रहे है। क्योंकि उन्हें अपने करोड़ों बच्चों की छोटी-छोटी बातों की भी चिंता है। बरनावा आश्रम में आते ही पूज्य गुरु जी लगातार लाइव होकर हमें अपना प्यार भरा आशीर्वाद दे रहे है और साथ में हमें राम-नाम के द्वारा आत्मबल बढ़ाने के लिए प्रेरित कर रहे है। पूज्य गुरु जी फरमा रहे है कि पॉजीटिविटी हमेशा दिमाग में रहनी चाहिए। ताकि जिंदगी में आप बहुत सफल हो सके।

जीत लाल बजाज इन्सां, 15 मैंबर सरसा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here