शूगर मिल की 100 फीट ऊंची चिमनी पर डटे गन्ना किसान

रंग लाया गन्ना किसानों का संघर्ष, पहली किश्त जारी

धूरी (सच कहूँ न्यूज)। भगवानपुरा शूगर मिल की तरफ से करीब 9 करोड़ रुपए की पेमेंट लेने के लिए गन्ना काश्तकार संघर्ष कमेटी का संघर्ष आखिरकार रंग लाया है। संघर्ष कमेटी के प्रमुख हरजीत सिंह बुगरां ने बताया कि दो दिन पहले डीएसपी धूरी के जरिए मुख्यमंत्री भगवंत मान के धूरी दफ्तर के कार्यकर्ताओं को मांग पत्र भेजा गया था, जिसके बाद गन्ना काश्तकारों के खातों में 54 लाख रुपए की पहली किश्त (पेमेंट) ट्रांसफर की जा चुकी है। बाकी बकाया राशि पाने की खातिर किसानों का मोर्चा जारी है। रविवार को भी संघर्ष जारी रहा।

दो गन्ना काश्तकार अवतार सिंह बबनपुर व सुखवंत सिंह शूगर मिल की 100 फीट ऊंची चिमनी पर भूख हड़ताल पर बैठे हैं, जबकि बाकी सदस्य मिल के मुख्य गेट पर पक्का धरना लगाए बैठे हैं। उन्होंने बताया कि 20 सितंबर को प्रशासन द्वारा उक्त शुगर मिल की नीलामी की जानी है। इसलिए सरकार को 20 सितंबर तक ही समय संघर्ष कमेटी द्वारा दिया गया है। उन्होंने कहा कि 14 सितंबर को प्रशासन द्वारा मिल की नीलामी रखी गई थी, लेकिन नीलामी को रद्द करके किसानों को गुमराह करने की कोशिश की गई। लेकिन इस बार किसान अपने हकों की लड़ाई के लिए आर-पार की लड़ाई पर उतर आए हैं। पहले तीन दिन तक दो गन्ना काश्तकार चिमनी पर चढ़े हुए थे जिनमें से जगदेव सिंह जखलां व सुखवंत सिंह भूख हड़ताल पर बैठे थे, परंतु जगदेव सिंह को ब्लॅड प्रेशर कम होने, बुखार, उलटियां की शिकायत होने पर डॉक्टर के कहने पर अस्पताल में दाखिल करवाया गया था। उसे उपचार के बाद घर भेज दिया गया था, जिसकी हालत अब स्थिर है।

यह भी पढ़ें:– आईटीबीपी ने पहली बार पशु परिवहन विभाग के 64 हेड कांस्टेबलों को पदोन्नत किया

जगदेव सिंह की जगह पर किसान अवतार सिंह बबनपुर भूख हड़ताल पर बैठ गया है। बुगरां ने कहा कि यदि इस संघर्ष दौरान किसी किसान साथी को कोई जानी नुकसान होता है तो उसके लिए पंजाब सरकार, शुगर मिल मालिक होंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री पर बरसते हुए कहा कि भगवंत मान का रवैए भी पिछले मुख्यमंत्रियों की भांति ही बन गया है। चुनाव से पहले भगवंत मान ने निजी तौर पर उनके संघर्ष के दौरान मुलाकात करके बड़े-बड़े वादे किए थे, परंतु यह वादे अभी तक पूरे नहीं हुए। धूरी मुख्यमंत्री का अपना हलका है, लेकिन किसान अपने खून-पसीने की कमाई पाने की खातिर 100 फीट ऊंची चिमनी पर चढ़ने व संघर्ष को मजबूर हैं।

थाना प्रमुख थाना धूरी के प्रमुख हरजिंदर सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा कि लॉ एंड आर्डर की स्थिति को बरकरार रखना हमारी जिम्मेदारी है। मिल मालिकों ने एसडीएम को पूरी पेमेंट करने का शेड्यूल बनाकर दिया है जिसके तहत पहली किश्त के तहत 54 लाख रुपए खातों में ट्रांसफर किए जा चुके हैं। 25 लाख रुपए की पेमेंट सोमवार को ट्रांसफर होने की उम्मीद है। बाकी रकम भी अलग-अलग पड़ाव में 31 अक्तूबर तक डाले जाने का भरोसा दिलाया गया है। पुलिस प्रशासन पूरी तरह से पैनी नजर रखे हुए हैं।

मिल के चीफ जनरल मैनेजर ठाकुर जयपाल सिंह ने कहा कि मिल के एमडी द्वारा किसानों को पेमेंट करने का पूरी शेड्यूल प्रशासन को दे दिया गया है। जल्द ही अलग-अलग तरीख को पेमेंट अदा कर दी जाएगी। बिजली व पानी की काटी सप्लाई को भी बहाल करवाया जा चुका है। किसी को कोई परेशानी पेश नहीं आएगी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here