यात्रा में रखें ध्यान अपने स्वास्थ्य का

0
174
Health-tips

कभी-कभी तबियत ठीक न होने पर भी बच्चों की जिद से या किसी खास कारण से आपको अचानक बाहर जाना पड़ सकता है। ऐसे में हम अपनी यात्रा को स्थगित भी नहीं कर सकते। अगर आप भी ऐसी ही किसी परेशानी से जुड़े हैं तो यात्रा पर निकलने से पहले बहुत सोच-समझकर और व्यवस्थित ढंग से अपना प्रोग्राम बनाएं। इन्हीं बातों का ध्यान रखते हुए आइए जानें कुछ जरूरी हिदायतें जो आपको यात्रा में जाने से पहले ध्यान में रखनी चाहिए:-

हल्के से हल्का भोजन करें:- Travel Health Tips

अगर आपको अपच, खट्टी डकार आदि आते हों तो यात्रा पर जाने से पहले बेहद हल्का भोजन करें। ट्रेन या बस यदि सुबह के समय से हों तो नाश्ते में एक गिलास दूध या एक सेब ले सकते हैं। रात की यात्रा के दौरान भोजन बहुत हल्का जैसे एक चपाती और थोड़े से चावल ही खाएं। जाने से कुछ देर पहले खाना खा लें, जिससे लेटते समय खाना पूरी तरह से हजम हो जाए।

बैग में अपने रोग से संबंधित दवाइयां आदि जरूर रखें:-

यात्रा में जाने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आपने ‘फर्स्ट-एड बॉक्स’ रखा है या नहीं। अस्थमा के रोगियों को इन्हेलर जरूर रखना चाहिए ताकि अटैक की हालत में आप उसे फौरन इस्तेमाल में ला सकते हैं। मधुमेह के रोगियों को अपने बैग में इंसुलिन के इंजेक्शन आदि रखने चाहिए, जिसे वह आगे जरूरत पड़ने पर उनका इस्तेमाल कर सकें।

यात्रा के दौरान मानसिक गतिविधियों से दूर ही रहें:-

अगर आप यात्र के दौरान बोरियत आदि महसूस कर रहें हों तो कोई अच्छा सा कर्णप्रिय गाना वॉकमैन आदि से सुन सकते हैं पर अपने आप को थकाने वाला काम जैसे वीडियो गेम खेलना, कुछ लिखना या बहुत महीन लिखा हुआ पढ़ना, इससे आँखों के साथ-साथ आपके दिमाग पर भी असर पड़ सकता है।

अपने आप को बहुत आरामदायक मुद्रा में रखें:-

यात्र के दौरान आपको काफी घंटों तक बैठना, लेटना या खड़े भी रहना पड़ सकता है इसके लिए आप को चाहिए कि जहां पर भी बैठें या लेटें, अपनी मुद्रा को बहुत ही आरामदायक तरीके से रखें। बस में अगर यात्रा कर रहे हों तो एकाध घंटे बाद अपनी मुद्रा बदलें। चाहें तो खड़े हो भी सकते हैं, क्योंकि बस में उतनी अच्छी तरफ घूम फिर नहीं सकते, न ही यात्रा के वक्त आप एक कोने से दूसरे कोने में घूम सकते हैं। ऐसा करने से आप यात्रा के बाद भी रिलैक्स फील कर सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान अधिक ध्यान रखें:-

अगर आपको किसी कारण से ऐसी अवस्था में यात्रा करनी पड़ रही हो तो आपको अपनी सेहत का डबल ख़्याल रखना चाहिए, क्योंकि आपके साथ आपको गर्भ में पल रहे शिशु का भी ध्यान रखना होगा। मजबूरीवश बस में यात्र करनी पड़ रही हो तो बस के गंतव्य पर रूकते ही शौच के लिए जाएं, क्योंकि यह आपके और नन्हे शिशु दोनों के हित में हैं।

अपने साथ खाने-पीने से लेकर सभी जरूरी चीजें लेकर चलें:-

नन्हें मुन्नों के साथ यात्र कर रहीं हों तो कोशिश करें कि उनके खाने-पीने से लेकर पहनने, ओढ़ने आदि जैसी चीजों का पूरा ध्यान रखें। बस के खराब होने की स्थिति में इस तरह करने से आप परेशानी से बच सकती हैं। सर्दियों के मौसम में पहले से सारे स्वेटर व गरम शालें आदि एक बड़े बैग में रख लें। हो सकता है जहां आप जा रहे हो,ं वहां पर और भी ठंड पड़ रही हो और आपको या आपके लाडलों को इससे जुकाम, खांसी या फ्लू आदि हो सकता है, इसलिए अपनी तरफ से कमी न छोड़ें। कहते है न ‘प्रिवेंशन इज बैटर दन क्योर’।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।