Toilet Cleaning: जब है समाधान तो क्यों होना परेशान! ऐसे रखें, अपने टॉयलेट पॉट की सफाई का ध्यान!

Toilet Cleaning
Toilet Cleaning: जब है समाधान तो क्यों होना परेशान! ऐसे रखें, अपने टॉयलेट पॉट की सफाई का ध्यान!

Toilet Cleaning Tips: नई दिल्ली। बदबू में जाना कोई भी पसंद नहीं करता और जब बात टॉयलेट की आती है तो सभी का माथा ठिनकता है, वहां की बदबू को देखकर। यही अगर घर का टॉयलेट हो तो उसकी जिम्मेवारी खुद की ही होती है। वैसे तो किसी को भी गंदा शौचालय साफ करना पसंद नहीं होता। जबकि वो ज्यादा गन्दा और ज्यादा समय लेने वाला हो तब तो बिल्कुल भी नहीं। यही कारण है कि उसे साफ करने में बहुत ही ज्यादा झिझक होती है। कई बार तो उसे साफ करने का मन ही नहीं करता और यूं ही छोड़ दिया जाता है। लेकिन ऐसा आखिर कब तक चल सकता है। कभी ना कभी तो आपको अपने घर के टॉयलेट की सफाई करनी ही पड़ेगी। यदि आप भी अपने घर के शौचालय की सफाई करने से डरते हैं तो आपको आज इस लेख के माध्यम से बहुत ही सरल टिप्स सुझाए जा रहे हैं जिनको अपनाकर आप आसानी से अपने घर के शौचालय की सफाई कर पाएंगे और कभी सफाई करने की झिझक भी पैदा नहीं होगी। इन टिप्स से आप अपने टॉयलेट की सफाई तो कर ही पाएंगे अपितु आप जो फफूंदी और मैल टॉयलेट में जम जाती है उसे भी आसानी से हटाने में सफल हो पाएंगे। जोकि बहुत ही महत्वपूर्ण है, जिसे करना आपके लिए शायद मुश्किल होता हो। आइये जानते हैं टिप्स के बारे में:-

Weather Update: यूपी, हरियाणा, बिहार में झमाझम बारिश का अलर्ट, इस दिन तगड़ी आंधी की भविष्यवाणी

सबसे पहले आपको क्या करना है कि आप अपने घर के टॉयलेट को साफ करने के लिए बहु-सतह रासायनिक क्लीनर का उपयोग करें। सर्वोत्तम परिणामों के लिए आप ऐसा क्लीनर चुनें जो सिरेमिक सतहों पर फफूंदी और कठोर पानी के जमाव जैसे कठिन दागों को कीटाणुरहित करने और काटने में मददगार साबित हो। अब टॉयलेट बाउल क्लीनर का कटोरे के अंदरूनी हिस्से के चारों स्प्रे या छिड़काव करें। भारी दाग या फफूंदी वाले क्षेत्रों पर पर विशेष तौर पर छिड़कें। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आपके घर में अपने शौचालय को साफ करने के लिए सिरका, बेकिंग सोडा, बोरेक्स या हाइड्रोजन पेरोक्साइड जैसे अवयवों के संयोजन से बने घरेलू क्लीनर भी विकल्प के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं। बाथरूम को अच्छी तरह हवादार रखने के लिए उसमें ओवरहेड पंखा चालू रखें।

Best & Worst Fruits For Diabetes: डायबिटीज के मरीजों को भूलकर भी नहीं करना चाहिए इन फलों का सेवन, मिल सकते हैं गंभीर परिणाम

दूसरा टिप्स यह है कि सफाई के घोल को 5-10 मिनट तक टॉयलेट पॉट पर लगा रहने दें। कुछ मिनटों के बाद, क्लीनर चिपकी हुई गंदगी को घोलना शुरू कर देगा जो साधारण ब्रशिंग से नहीं निकलेगी। क्लीनर के लिए विशेष रूप से भारी या जिद्दी दागों पर एक घंटे या उससे अधिक समय तक या यहां तक कि रात भर के लिए भी छिड़काव करके छोड़ सकते हैं। कटोरे के किनारों पर ऊंचे अवशेषों से निपटने के लिए, उस स्थान को क्लीनर से धोएं। यदि आप चाहते हैं कि आपका टॉयलेट हमेशा के लिए चकाचक रहे तो क्लीनर से धोने के पश्चात अपने टॉयलेट को कागज के तौलिये से ढक दें। वो वैसे का वैसा ही साफ सुथरा रहेगा।

Haryana Pension Scheme: हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, इन लोगों की कटेगी पेंशन, दिए ये आदेश

टॉयलेट के कटोरे के अंदरूनी हिस्से को साफ करने के लिए उसे अच्छी तरह से रगड़ कर धोएं। कटोरे की दीवारों और तली पर जाने के लिए कड़े ब्रिसल वाले नायलॉन टॉयलेट ब्रश या लंबे हैंडल वाले स्क्रबर का उपयोग करें। ब्रश को आगे-पीछे गति देने की बजाय तंग घेरे में रगड़ने से अधिक गंदगी निकलेगी। यदि आपको भद्दे टॉयलेट रिंगों को साफ करने के लिए कुछ अधिक भारी-भरकम चीज की आवश्यकता है, तो डिस्पोजेबल सैंडिंग ब्लॉक या प्यूमिस स्टोन आजमाएँ। ये दोनों चीनी मिट्टी के बरतन पर पूरी तरह से सुरक्षित होते हैं।

शौचालय को साफ करने के लिए उसे फ्लश करें। जब आप साफ करना बंद कर लें, तो शौचालय में ताजा पानी चलाने के लिए शौचालय को दो बार फ्लश करें। इससे सफाई के परिणामस्वरूप बचे किसी भी ढीले मलबे या गंदे पानी को हटाने में मदद मिलेगी। बाद में, कटोरा नए जैसा चमकने लगेगा। अपने घर में शौचालयों को सप्ताह में लगभग एक बार गहराई से साफ करें, यदि उनका बहुत अधिक उपयोग होता है तो अधिक बार सफाई करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here