सीड फार्म निवासी नर्स की मोहाली में की गई हत्या की गुत्थी सुलझी

nurse murder case

 निलंबित एएसआई रशप्रीत सिह ने की थी हत्या

सच कहूँ/सुधीर अरोड़ा
अबोहर। पंचकूला के निजी अस्पताल में बतौर नर्स के रूप में कार्य करने वाली मूल रूप से अबोहर के सीडफार्म निवासी 23 वर्षीय युवती नसीब कौर की 14 नवंबर को की गई हत्या की गुत्थी मोहाली पुलिस ने सुलझा ली है। यह हत्या युवती के दोस्त रशप्रीत सिंह पुत्र हरपाल सिंह ने की थी जो कि पंजाब पुलिस का निलंबित एएसआई ने गला घोंट कर की थी जिसके बाद शव गांव सोहाना के तालाब के पास एक बैंच पर पड़ा हुआ मिला था। पुलिस के अनुसार नसीब कौर रशप्रीत सिंह से मिलने के लिए गई थी जहां दोनों का आपस में झगड़ा हो गया व रशप्रीत ने उसकी हत्या कर दी। फिलहाल रशप्रीत सिंह पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस ने मृतका के पिता मुख्यत्यार सिंह के बयानों पर हत्या का मामला दर्ज किया था। जानकारी अनुसार सीडफार्म निवासी नसीब कौर पुत्री मुख्तयार सिंह पिछले कई महीनों से मोहाली तथा पंचकूला के अस्पतालों में बतौर नर्स कार्य कर रही थी और गांव सोहाना में अपनी शिमला निवासी एक सहेली के साथ पीजी मेंं रह रही थी। वर्तमान समय में नसीब कौर सेक्टर पांच पंचकूला के एक निजी अस्पताल में स्टाफ नर्स के तौर पर तैनात थी। 14 नवंबर को वह पीजी से अस्पताल के लिए गई लेकिन रविवार सुबह उसका शव गांव सोहाना के तलाब के पास बेंच पर पड़ा देख लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस को उसके पास मिले आईकार्ड से उसकी पहचान हुई और इसके बाद उसके परिजनों को सूचित किया गया। परिजनों के अनुसार मृतका चार बहनों में सबसे छोटी थी जबकि उसके कोई भाई नहीं है। उसके पिता ने मेहनत मजदूरी करके परिवार का पालन पोषण करते हुए सबसे छोटी बेटी को नर्सिंग का कोर्स करवाया था।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here