इंतजार समाप्त: ऐलनाबाद उपचुनाव 30 अक्टूबर को

0
158
Ellenabad By Election

तीन लोकसभा सीटों और 30 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होंगे

  • 2 नवंबर को आएंगे नतीजे

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। 14 राज्यों में होने वाले बहुप्रतीक्षित उपचुनावों का इंतजार अब खत्म हो गया है। चुनाव आयोग ने उपचुनावों की तारीखों का एलान कर दिया है। 30 अक्टूबर को कुल तीन लोकसभा सीटों और 30 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। इन सीटों पर परिणाम 2 नवंबर को आएंगे। जिन 3 लोकसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें दादरा और नगर हवेली, हिमाचल प्रदेश की मंडी और मध्यप्रदेश की खंडवा सीट है।

इसके अलावा एमपी, असम, आंध्रप्रदेश, महाराष्टÑ और पश्चिम बंगाल सहित कुल 13 राज्यों में विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होंगे। राजस्थान, बिहार और कर्नाटक की दो-दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। वहीं मिजोरम,तेलंगाना, नागालैंड, महाराष्टÑ, आंध्रप्रदशे और हरियाणा के ऐलनाबाद विधानसभा सीट पर उपचुनाव होंगे।

हरियाणा में भाजपा के लिए होगी अग्निपरीक्षा?

हरियाणा के ऐलनाबाद में विधानसभा उपचुनाव 30 अक्तूबर को होंगे, लेकिन जानकारों के अनुसार इस चुनाव में भाजपा गठबंधन के लिए अग्नि परीक्षा से कम नहीं होगा। क्यों कि यह किसान बेल्ट आती है और इस समय तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में किसान सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे हुए हैं। अब देखना यह दिलचस्प होगा कि इस चुनाव में भाजपा गठबंधन कैसे मतदाताओं के बीच अपनी बात रख पाता है।

खंडवा के अलावा जोबट, रैगांव और पृथ्वीपुर उपचुनाव के लिए बजा चुनावी बिगुल

मध्यप्रदेश में खंडवा संसदीय सीट और तीन विधानसभा क्षेत्रों जोबट, रैगांव और पृथ्वीपुर में आज उपचुनाव का कार्यक्रम घोषित होने के साथ ही इन क्षेत्रों में चुनावी गतिविधियां औपचारिक तौर जोर पकड़ने लगी हैं। उपचुनाव कार्यक्रम जारी होने ही संबंधित जिलों में आदर्श आचार संहिता प्रभावी हो गयी है। उपचुनावों के लिए अधिसूचना 01 अक्टूबर को जारी होने के साथ प्रत्याशियों द्वारा परचे दाखिले का कार्य प्रारंभ हो जाएगा, जो 13 अक्टूबर तक चलेगा। इसके बाद मतदान 30 अक्टूबर को होगा और 02 नवंबर को मतगणना के बाद नतीजे घोषित किए जाएंगे। खंडवा संसदीय सीट भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान के निधन के कारण रिक्त हुयी है, जबकि अलीराजपुर जिले की जोबट (अजजा) विधानसभा सीट पर कांग्रेस विधायक सुश्री कलावती भूरिया के निधन के कारण यह नौबत आयी है। सतना जिले की रैगांव (अजा) विधानसभा सीट से भाजपा नेता जुगलकिशोर बागरी और निवाड़ी जिले की पृथ्वीपुर से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बृजेंद्र सिंह राठौर के निधन के कारण ये दोनों स्थान रिक्त हुए हैं।

अब तक दोनों ही दलों की ओर से प्रत्याशी घोषित नहीं हुए

खंडवा संसदीय क्षेत्र में भाजपा अपना कब्जा बरकरार रखने के लिए पूरी कोशिश करेगी, जबकि कांग्रेस अपने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव के रूप में भाजपा को चुनौती दे सकती है। हालाकि अब तक दोनों ही दलों की ओर से प्रत्याशी घोषित नहीं हुए हैं।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।