हमसे जुड़े

Follow us

Epaper

11.8 C
Chandigarh
More
    Educational Story

    संगत का असर

    एक बार एक बौद्ध भिक्षु भिक्षा लेने एक नगर में गया हुआ था। और सारे नगर के लोग उसकी सेवा करना चाहते थे क्योंकि उस समय बौद्ध भिक्षुओं का बहुत सम्मान था। इसलिये जिसे भी पता चला दौड़ा-दौड़ा उस भिक्षु के पास पहुँचा। उन्हीं में से एक वेश्या भी थी जिसने उस भिक...

    अकबर इलाहाबादी शायरी

    बस जान गया मैं तिरी पहचान यही है तू दिल में तो आता है समझ में नहीं आता ख़ुदा से माँग जो कुछ माँगना है ऐ 'अकबर' यही वो दर है कि ज़िल्लत नहीं सवाल के बाद जब मैं कहता हूँ कि या अल्लाह मेरा हाल देख हुक्म होता है कि अपना नामा-ए-आमाल देख अकबर इ...

    कविता : राष्ट्र जीवंत

    राष्ट्र जीवंत रहे दिल में अरमान है सब सुरक्षित रहें दिल में अरमान है देश ही के लिए हों सब अच्छे कर्म यह हर एक देशवासी की पहचान है। तुम ग़रीबी मिटाओगे यह वादा करो मुफ़लिसी को हराओगे वादा करो एकता तुम दिखाओगे यह वादा करो हर बुराई तुम मिटाओगे यह ...
    studies

    Studies : पढ़ाई

    मार्कशीट और सर्टिफिकेट को फैलाए उसके ढेर के बीच बैठी कुमुद पुरानी बातों को याद करते हुए विचारों में खोई थी। सारी पढ़ाई, मेहनत और खर्च उस दिन उसे व्यर्थ लग रहा था। पागलों की तरह पहला नंबर लाने के लिए रात-दिन मेहनत करती, पहले नंबर की बधाई के साथ मिलने व...
    Fruit-of-Honesty

    प्रेरक प्रसंग: ईमानदारी का फल

    बहुत पहले की बात है एक राजा सुबह सुबह सैर करने के लिये महल से अकेला ही निकला। रास्ते में उसने देखा, एक किसान पसीने में तर-ब-तर अपने खेत में काम कर रहा है। राजा ने उसके पास जाकर पूछा, 'भाई आप इतनी मेहनत करते हो, दिन में कितना कमा लेते हो ?' किसान ने उ...
    Children-Story

    जब राजू सन्नाटे की कब्र फाड़ कर निकला बाहर…

    एक प्राथमिक स्कूल में अंजलि नाम की एक शिक्षिका थीं। वह कक्षा 5 की क्लास टीचर थी, उसकी एक आदत थी कि वह कक्षा में आते ही हमेशा ‘आई लव यू आॅल’ बोला करतीं थी। मगर वह जानती थीं कि वह सच नहीं बोल रही। वह कक्षा के सभी बच्चों से एक जैसा प्यार नहीं करती थीं। ...
    Elder's-scolding

    बड़ो की डांट भी दुलार

    पापा: ये क्या है। दादाजी ने सारे आॅफिस के सामने आपको डांटा और आप चुपचाप सुनते रहे। मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लगा। आप भी कंपनी में सारे कामकाज देखते हैं, क्या हुआ जो गलती से आर्डर इधर-उधर हो गया। आॅफिस में सभी आपका सम्मान करते हैं। ऐसे सबके सामने वो आपक...
    Self Respect of Country

    India is my country: भारत देश मेरा…

    मेरी भारत माता मानवता की महान भूमि है पहली बार सभ्यता को अपनी उपस्थिति मिली
    Struggle Life Story

    संघर्ष भरे जीवन की अजीब दास्तां

    ‘‘भविष्य की तो कौन जानता है, पर किशोरवय की चंचलता के कारण उन्हें कई बार मां की ही नहीं, पिता की भी डांट खानी पड़ती। मां-पिता भविष्य देखते थे और वे किशोरियां वर्तमान, जिसमें भरे होते सपने-ही-सपने। असत्य तो उन सपनों के बीच समाता ही न था। हर लड़का राजा, ह...
    Prithviraj Chauhan

    शब्द भेदी बाण कला में निपूर्ण थे पृथ्वीराज चौहान

    बहादुर और बुद्धिमान और तेज सैन्य कौशल से दुश्मनों को देते थे मात नाम पृथ्वीराज चौहान जन्मतिथि 1149 ईस्वी जन्म स्थान अजमेर प्रसिद्धी कारण चौहान वंश के राजपूत राजा पिता का नाम सोमेश्वर चौहान माता का नाम कमलादेवी पत्नी का नाम संयुक्ता धर्म हिंदू...
    Identify Yourself

    खुद की पहचान करो

    एक बार की बात है, किसी गाँव के पास बहती नदी के किनारे बुद्ध बैठे थे। किनारे पर पत्थरों की भरमार थी, पर छोटी सी वह नदी अपनी तरल धारा के कारण आगे बढ़ती ही जा रही थी। बुद्ध ने विचार किया कि यह छोटी-सी नदी अपनी तरलता के कारण कितनों की प्यास बुझाती है, लेक...

    दर्जी की सीख

    एक दिन स्कूल में छुट्टी की घोषणा होने के कारण, एक दर्जी का बेटा, अपने पापा की दुकान पर चला गया। वहाँ जाकर वह बड़े ध्यान से अपने पापा को काम करते हुए देखने लगा। उसने देखा कि उसके पापा कैंची से कपड़े को काटते हैं और कैंची को पैर के पास टांग से दबा कर रख ...
    Mother is the Real God

    माँ ही है इस संसार में साक्षात परमात्मा

    लड़का एक जूते की दुकान पर आता है, गांव का रहने वाला लग रहा था बोलने के लेहजे से लेकिन बोली में ठहराव था उसके। दुकानदार की पहली नजर उसके पैर पर जाती है। उसके पैरों में लेदर के शूज थे, सही से पॉलिश किए हुए।दुकानदार —क्या सेवा करूं? लड़का — मेरी मां के लि...
    Tere jaisa Insan Nahi

    गीत: तेरे जैसा दुनियां में इन्सान नहीं

    उर्वर भूमि के मालिक उद्यम कृषक सुन। नींव के सृजक प्रभाकर श्रमिक सुन। तेरे खून पसीने में तो सूरज है। सुन्दर कायनात तेरी ही मूर्त है। रीस तेरी कर सकता भी भगवान नहीं। तेरे जैसा दुनिया में इन्सान नहीं। कर्मठता का सारा तन्मय तेरा है। अम्बर भीतर तेर...
    Female-Sarvent

    एक ही कामवाली के कई-कई रूप और अनेकानेक व्याख्याएं

    मेरी गली में भी कामवालियों को लेकर रोज ही चकल्लस चला करतीं। गली की मेमसाहबें कभी उनकी तारीफें करते न अघातीं तो कभी बुराइयां करते-करते। एक ही कामवाली के कई-कई रूप और अनेकानेक व्याख्याएं। बुराई-भलाई करने का भी एक अलग निंदारस चला करता जैसे कि शेयर बाजार...
    Give-Shelter

    प्रेरक प्रसंग: जरूरतमंद को अपनी क्षमता अनुसार शरण दीजिए

    एक गरीब आदमी की झोपड़ी, जहां रात को जोरों की वर्षा हो रही थी। सज्जन था, छोटी सी झोपड़ी थी। स्वयं और उसकी पत्नी, दोनों सोए थे। आधी रात किसी ने द्वार पर दस्तक दी। उन सज्जन ने अपनी पत्नी से कहा-उठ! द्वार खोल दे। पत्नी द्वार के करीब सो रही थी। पत्नी ने कहा...
    Morale

    लघुकथा: अपने मनोबल को कभी कमजोर मत होने दो

    0
    एक बार एक मेढ़क का समूह जंगल में घूम रहा था। तभी अचानक उन समूह में से दो मेढ़क एक गहरे गड्ढे में गिर गये। जब उनके साथी दूसरे मेढ़कों ने उन्हें गहरे गड्ढे में गिरे हुए देखा तो वे बोले की आप इस गड्ढे से बाहर नहीं निकल सकते और अब आप अपनी मौत के बहुत नजदीक ...

    और कितने दूर

    0
    सोमली रात से ही व्याकुल थी। करवट बदल-बदलकर उसने रात काटी। उसकी इस दशा को उसकी सास ने ताड़ लिया था। वह भी उससे दो-चार हाथ दूर ही सोयी हुई थी। काफी देर तक वह कुछ बोली नहीं। यूं भी अपनी इस बहू को वह कुछ कहना ठीक नहीं मानती थी, पढ़ी-लिखी होने के कारण। इस व...
    Golconda-Fort

    रहस्यों से भरा गोलकोंडा किला

    0
    वे इतनी जटिल रूप से डिजाइन किए गए थे कि ठंडी हवा किले के अंदरूनी हिस्सों तक पहुंच सकती थी
    Price A Glass of Milk

    लघुकथा : एक गिलास दूध की कीमत

    0
    एक दिन, एक गरीब लड़का जो स्कूल के बाद घर-घर जाकर सामान बेच रहा था, उसने पाया कि उसके पास केवल कुछ पैसा ही बचा है, और वह भूखा था। उसने तय किया कि वह अगले घर पर खाना मांगेगा। हालांकि, जब एक युवती ने दरवाजा खोला, तो उसने संकोच वश भोजन के बदले पानी मांगा।...
    smiling-life-Story

    Smiling Life : मुस्कुराता जीवन

    शडियन एक मामूली जमींदार था किंतु वहां का जमींदार उसे अपने बड़े भाई की तरह मानता था। इस बात से सारा कांचीपुरम परिचित था। लोग खुलेआम कई प्रकार से विरोध भी प्रकट करते रहते परंतु जमींदार अपनी बात को समझाने की अपेक्षा हंसते हुए उनको समदृष्टि रखने का उपदेश ...
    Rani-Durgavati

    कुशल व बहादुर शासिका थी ‘रानी दुर्गावती’

    जीवन परिचय (Rani Durgavati)  नाम रानी दुर्गावती जन्म स्थान कालिंजर दुर्ग पिता का नाम कीरतराय पति का नाम दलपत शाह बेटे का नाम वीर नारायण मृत्यु स्थान जबलपुर रानी दुर्गावती का नाम भारत की उन महानतम वीरांगनाओं की सबसे अग्रिम पंक्ति में आता है जि...
    Father-Love

    लघु कंथा : पिता का प्रेम

    रमा जी के घर निर्माण कार्य चल रहा था। भोजन करने के वक्त श्यामू सबसे अलग-थलग बैठा था। क्या बात है श्यामू, आज तूं खाना लेकर नहीं आया? रमा जी ने पूछा। नहीं मालकिन, मेरी घरवाली बीमार चल रही है, इसीलिए मेरी बेटी ही कुछ दिनों से घर का काम देख रही है। रात म...
    Motivational Story: Sanskar

    Motivational Story: Sanskar : प्रेरक कहानी: संस्कार

    एक घर मेें तीन भाई और एक बहन थी। बड़ा और छोटा पढ़ने में बहुत तेज थे। उनके मां-बाप उन चारों से बेहद प्यार करते थे मगर मझले बेटे से थोड़ा परेशान से थे। बड़ा बेटा पढ़ लिखकर डॉक्टर बन गया। छोटा भी पढ़-लिखकर इंजीनियर बन गया। मगर मझला बिलकुल आवारा और गंवार बनके ...
    How-people

    कहानी : कैसे लोग

    वह अपनी पत्नी के साथ ससुराल में आया हुआ था। इसी गांव में उसकी एक बहन भी ब्याही हुई थी। ससुराल में जब मिलना-जुलना हो गया तो उसने बहन से मिलने का मन बनाया लेकिन हिचकिचाहट भी हो रही थी। इसके कई कारण थे। वह एक साधारण दर्जी था। एक कपड़े के व्यापारी की दुका...