भारत ने श्रीलंका की मदद के लिए जतायी प्रतिबद्धता

Sri Lanka Economic Crisis

कोलंबो (एजेंसी)। भारत ने कहा कि श्रीलंका 1948 में आजादी के बाद से अपने सबसे खराब आर्थिक संकट (Sri Lanka Crisis) से जूझ रहा है और वह उसकी मदद के लिए प्रतिबद्ध है। भारतीय उच्चायोग ने उन मीडिया रिपोर्टों पर यह टिप्पणी की जिसमें कहा गया था कि भारत श्रीलंका को अब और कोई वित्तीय सहायता नहीं देगा। भारतीय उच्चायोग ने यहां एक बयान में कहा कि भारत ने श्रीलंका के लोगों के सामने आने वाली कठिनाइयों को दूर करने के लिए इस वर्ष लगभग चार अरब डॉलर की अभूतपूर्व द्विपक्षीय सहायता प्रदान की थी।

भारत ने अन्य द्विपक्षीय और बहुपक्षीय भागीदारों की भी वकालत की है जो श्रीलंका को उसकी मौजूदा आर्थिक कठिनाइयों से तेजी से समर्थन दे रहे हैं। बयान में कहा गया है कि भारत ने हरसंभव तरीके से, विशेष रूप से श्रीलंका में प्रमुख आर्थिक क्षेत्रों में दीर्घकालिक निवेश को बढ़ावा देकर उसका सहयोग जारी रखा है, ताकि इसकी शुरूआती आर्थिक सुधार और विकास हो सके।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here