अब छुट्टी के दिन भी आपके खाते में आएगी सैलरी, आरबीआई कर रहा है एक अगस्त से बड़े बदलाव

RBI New Changes

नई दिल्ली (सच कहूँ डेस्क)। किसी को सैलरी का भुगतान कब होगा अगर यह सवाल किसी नौकरी पेशा व्यक्ति से पूछा जाए तो उसका जवाब रहता है कि जब बैंक खुलेंगे तब पैसा अकाउंट में क्रेडिट होगा। लेकिन कई बार देखा जाता है कि महीने की शुरूआत छुट्टियों से होती है। जिसकी वजह से लोगों को सैलरी के क्रेडिट होने के लिए लम्बा इंतजार करना पड़ता था। लेकिन 1 अगस्त से हो रहे नियमों के बदलाव की वजह से अब महीने की पहली तारीख को ही आपके खाते में सैलरी आ जाएगी। आइए जानते हैं कि किस नियम के बदलने से यह सुविधा मिलेगी साथ ही एटक और पेंशन से इसका क्या कनेक्शन है। वहीं रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया की घोषणा के अनुसार 1 अगस्त से सैलरी, पेंशन और ईएमआई कि भुगतान 24-7 किया जा सकेगा।

एटीएम से कैश विड्रॉल में बदलाव

आरबीआई के नए नियम के तहत अब बैंक ग्राहक अपने बैंक के अळट से हर महीने 5 फ्री ट्रांजैक्शन (वित्तीय और गैर-वित्तीय लेनदेन सहित) सुविधा का लाभ ले सकते हैं। इसके बाद के विड्रॉल पर उन्हें चार्ज देना होगा। आरबीआई ने वित्तीय लेनदेन के लिए 15 रुपए से 17 रुपए तक और सभी केंद्रों में गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए 5रुपए से 6रुपए तक प्रति लेनदेन इंटरचेंज शुल्क में बढ़ोतरी की है।

अब छुट्टी के दिन भी खाते में आएगी सैलरी

अब सैलरी, पेंशन और ईएमआई भुगतान जैसे महत्वपूर्ण लेनदेन के लिए अब आपको वर्किंग डे का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। आरबीआई ने नेशनल आॅटोमेटेड क्लियरिंग हाउस के नियमों में बदलाव किया है। एनएसीएच एनपीसीआई द्वारा संचालित एक थोक भुगतान प्रणाली है। जो विभिन्न प्रकार के क्रेडिट ट्रांसफर जैसे डिविडेंड, ब्याज, सैलरी और पेंशन की सुविधा प्रदान करता है। वर्तमान में एनएसीएच सेवाएं केवल उन दिनों में उपलब्ध हैं जब बैंक काम कर रहे होते हैं, लेकिन 1 अगस्त से यह सुविधा सप्ताह के सभी दिनों में उपलब्ध हो जाएगी।

आईसीआईसीआई बैंक से पैसे निकालना हुआ महंगा

आईसीआईसीआई बैंक से हर महीने चार ट्रांजैक्शन कर सकते हैं यानी महीने में चार बार अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं। अगर चार बार से ज्यादा कोई पैसे निकालता है तो उसे एक बार के ट्रांजैक्शन के हिसाब से 150 रुपए देने होंगे। यानी बैंक से पैसे निकालने पर हर ट्रांजेक्शन पर 150 रुपए देने होते हैं। इसके अलावा आईसीआईसीआई बैंक ने हर महीने के लिए 1 लाख रुपए तक के ट्रांजैक्शन फिक्स कर रखे हैं। इसके बाद पैसे की निकासी पर उन्हें चार्ज देना होता है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।