अलर्ट: नहीं माने तो फिर शुरु होगा कोविड-19 का दौर

0
272
Carelessness Towards Corona

नेता, अधिकारी व आमजन सब लापरवाही के ‘मरीज’

सच कहूँ/संदीप सिंहमार
हिसार। वर्तमान समय में चहुँओर बढ़ती लापरवाही ने लोगों को अपनी गिरफ्त में लेना शुरु कर दिया है। इस लापरवाही में आमजन से लेकर अधिकारी वर्ग व नेता भी शामिल है। पर चिंता की बात यह है कि इस लापरवाही की ओर किसी का ध्यान क्यों नहीं जा रहा? हम बात कर रहे हैं कोविड-19 के दौर में की जा रही लापरवाही की। देश के शीर्ष नेतृत्व से लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय तक इस बात पर जोर दे रहे हैं की तीसरी लहर कभी भी आ सकती है। इसके बावजूद भी बाजारों में बढ़ती भीड़ से ज्यादा डर राजनीतिक व आधिकारिक कार्यक्रमों के साथ-साथ समाज के बढ़ते कार्यक्रमों से है। वर्तमान समय में जितने भी लगभग छोटे या बड़े कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है।

उन सभी में कोविड-19 के प्रोटोकॉल कोसों दूर नजर आते हैं। सोशल डिस्टेंसिंग की तो बात ही छोड़िए जिम्मेदारों के फेस पर भी मास्क तक नजर नहीं आता। नतीजा भी सबके सामने आने लगा है। यदि हिसार जिला की बात करें तो 5 अगस्त को हिसार जिला 17 माह बाद कोरोना मुक्त हो गया था। इसके एक दिन बाद ही इस सुरक्षा के चक्कर में सेंध लग गई थी। दो नए पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद एक्टिव मरीजों की संख्या फिर दो हो गई थी। इस दौरान लापरवाही के मामलों में कोई कसर नहीं रही। फिर नतीजा सामने आया और वीरवार को दो नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल गई। आंकड़ा बेशक कम हो लेकिन चौंकाने वाली बात अब यह है एक सप्ताह से भी कम समय में पॉजिटिव मरीजों की संख्या दुगनी हो गई है।

 माननीयों के मुंह पर मास्क भी नहीं नजर आया

यदि वीरवार की बात करें तो अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस पर नेशनल इंटीग्रेटेड फॉर्म आफ आर्टिस्ट्स एंड एक्टिविटीज द्वारा गुरु जंभेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय में अंतर्राष्ट्रीय लाइफÞ सेवर अवॉर्ड सेरेमनी का आयोजन किया गया। इस समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे हिसार रेंज के पुलिस महानिरीक्षक राकेश आर्य, विशिष्ट अतिथि हिसार के मेयर गौतम सरदाना व विशिष्ट अतिथि गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार अवनीश वर्मा, नेहरु युवा केंद्र के उपनिदेशक नरेंद्र यादव, जिला रेडक्रास सोसायटी के सचिव रविंद्र लोहान, यंग इंडिया लीडरशिप के चेयरमैन अनिल सिंघानिया व निफा के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रीतम पाल सिंह पन्नू में शामिल हुए। लेकिन मंच पर रहते हुए आईजी राकेश आर्य व मेयर गौतम सरदाना सहित माननीयों के मुंह पर मास्क भी नहीं नजर आया।

 सांसद बृजेंद्र सिंह की मौजूदगी में टूटा कोविड प्रोटोकॉल

उकलाना विधानसभा क्षेत्र में शहीद सम्मान तिरंगा यात्रा के आयोजन के दौरान भी हिसार के सांसद बृजेंद्र सिंह की मौजूदगी में जहां सोशल डिस्टेंसिंग का प्रोटोकॉल टूटता नजर आया फॉर्मेलिटीज के बाद चोरों से मास्क भी गायब मिला।

 विधायक डॉ कमल गुप्ता गले पर लगाते है मास्क

हिसार में भारतीय जनता पार्टी के द्वारा 14 अगस्त को प्रस्तावित तिरंगा यात्रा के लिए हिसार के विधायक डॉक्टर कमल गुप्ता ने कार्यकर्ताओं की बैठक ली। इस बैठक के दौरान खुद विधायक कमल गुप्ता का मास्क चेहरे की बजाए गले पर लगा हुआ था। इतना ही नहीं इस तिरंगा यात्रा में शामिल होने के लिए उन्होंने हिसार विधानसभा क्षेत्र के सभी 144 बूथों से 15 कार्यकर्ता शामिल होने की बात कही यदि ऐसा वास्तव में हुआ तो दो हजार से ज्यादा कार्यकर्ताओं का जमघट 14 अगस्त को होने वाला है, तब भी सोशल डिस्टेंसिंग की उम्मीद करना मुश्किल है।

 तीज उत्सव-सोशल डिस्टेंसिंग तोड़कर थिरकी महिलाएं

लापरवाही का चौथा मंजर सेक्टर 1-4 बेला पार्क में हरियाली तीज उत्सव के आयोजन के दौरान देखने को मिला। यहां पर महिलाओं ने सभी प्रकार के कोई और प्रोटोकोल तोड़कर हरियाणवी गीतों पर जमकर धमाल मचाया। यदि ऐसा ही नॉन स्टॉप चलता रहा तो वह दिन दूर नहीं जब हिसार में एक बार फिर कोरोना संक्रमण मुंह लोगों को अपनी चपेट में लेना शुरु कर देगा। ऐसे समय में इस लापरवाही की जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार कोई नहीं होगा?

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।